4 दिन में UP के दादरी पहुँचने वाले केजरीवाल 7 दिन बाद भी दिल्ली में राहुल के घर नहीं पहुँच सके!

नई दिल्ली, 13 अक्टूबर: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल जैसे लोग जाति-धर्म और मजहब देखकर गिरगिट की तरह रंग बदलते हैं, जी हाँ सही पढ़ा आपनें, बिना जातिधर्म देखे कुछ नहीं करते।

आपको बता दें कि कुछ मुस्लिम युवकों ( जिसमें तीन नाबालिग हैं ) ने दिल्ली के आदर्शनगर में 18 वर्षीय दलित युवक राहुल की पीट-पीटकर बेरहमी से ह्त्या कर दी, राहुल का कसूर सिर्फ इतना था कि वो एक मुस्लिम लड़की से मोहब्बत करता था जिससे खफा होकर मुस्लिम लड़की के भाइयों ने राहुल की ह्त्या कर दी…लेकिन सेकुलरवाद का ढोंग करनें वाले केजरीवाल जैसे लोग इस घटना पर खामोश हैं. घटना को एक हफ्ते से ज्यादा बीत जाने के बावजूद केजरीवाल अभी तक एक शब्द नहीं बोले हैं।

मालूम हो कि जब उत्तर प्रदेश के दादरी बिसाहड़ा में गौमांस रखनें का आरोपी अख़लाक़ मारा गया था तब केजरीवाल छाती पीट-पीट कर रो रहा था..ट्वीट पर ट्वीट कर रहा था..यहाँ तक की घटना के महज 4 दिनों के भीतर केजरीवाल दिल्ली से उत्तर प्रदेश के दादरी भी पहुँच गए थे। लेकिन दलित युवक राहुल का मर्डर हुए एक हफ्ते से ज्यादा बीत चुके हिन् लेकिन आप मुखिया केजरीवाल ने अभी तक राहुल के घर जाने की जहमत नहीं उठाई है, जबकि आदर्शनगर दादरी से बहुत नजदीक है, ख़ास बात यह ही कि आदर्शनगर दिल्ली में ही है।

आपको बता दें कि दिल्ली यूनिवर्सिटी के 19 वर्षीय छात्र राहुल की एक किशोरी के साथ दोस्ती थी जो मुस्लिम समुदाय से थी, किशोरी के परिवार वाले इससे बहुत खफा थे, धोखे से राहुल को बुलाकर बेरहमी से पीटा, इसके कुछ देर बाद राहुल की मौत हो गई।

loading...