कमलनाथ पर कड़ी कर्यवाही होनी चाहिए, उसने महिला का अपमान किया है: ज्योतिरादित्य सिंधिया

रविवार ( 18 अक्टूबर, 2020 ) को मध्यप्रदेश के डबरा विधानसभा क्षेत्र में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता कमलनाथ ने भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी एवं कैबिनेट मंत्री इमरती देवी के खिलाफ बेहद ही अभद्र टिप्पणी कर डाली, कमलनाथ की इस अश्लील टिप्पणी के बाद देश की सियासत गरमा गई, भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि कमलनाथ के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही होनी चाहिए ताकि आगे कोई महिला का अपमान करने की हिम्मत न कर सके.

भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने जिस तरह से एक सभा में मध्य प्रदेश सरकार की कैबिनेट मंत्री इमरती देवी जी का सार्वजनिक रूप से अपमान किया था, उसे कांग्रेस की दलित विरोधी सोच स्पष्ट हो गई थी। आज चुनाव आयोग ने इस संबंध में कमलनाथ जी को नोटिस जारी कर जो जवाब तलब किया है।

एक अन्य ट्वीट में उन्होनें लिख, मेरी मांग है कि चुनाव आयोग ऐसे महिला विरोधी बयानों को गंभीरता से लें, और सख्त कार्यवाही करें जिससे आगे किसी की हमारी मातृ शक्ति का अपमान करने की हिम्मत ना हो। कमलनाथ द्वारा भाजपा प्रत्याशी इमरती देवी को आइटम कहे जाने के विरोध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने दो घंटे का मौन व्रत रखा।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने रविवार ( 18 अक्टूबर, 2020 ) को डबरा विधानसभा क्षेत्र में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा प्रत्याशी एवं कैबिनेट मंत्री इमरती देवी के बारे में कहा कि “आप तो उसे मुझसे ज्यादा पहचानते हैं, आपको मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था, ये क्या आइटम है।

loading...