44 पुलों का निर्माण करके मोदी सरकार ने नार्थ ईस्ट को दिया अच्छे दिन का तोहफा, सेना का काम आसान

hindi-news-north-east-development-by-modi-sarkar

नार्थ ईस्ट, 12 अक्टूबर: आपने कांग्रेस पार्टी के नेताओं के मुंह से सुना होगा कि मोदी सरकार ने 6 वर्षों में कुछ नहीं किया लेकिन ऐसा नहीं है, मोदी सरकार ने पूरे देश में सड़कों और पुलों का जाल बना रही है ताकि जनता को आवागमन में परेशानी ना हो और ट्रांसपोर्ट की समस्या भी ख़त्म हो जाए।

मोदी सरकार के सबसे अधिक ध्यान नार्थ ईस्ट के राज्यों के विकास पर है, यही वजह है कि मोदी सरकार ने कुछ ही वर्षों में नार्थ ईस्ट के कई राज्यों को जोड़ने वाले 44 पुलों का निर्माण कर दिया, इन पुलों की वजह से नार्थ ईस्ट के करोड़ों लोगों के अच्छे दिन आ गए हैं, पहले इन्हें कई सौ किलोमीटर घूमकर एक राज्य से दूसरे राज्य में जाना पड़ता था, भारतीय सेना को भी आवागमन में परेशानी होती थी लेकिन अब पब्लिक के साथ साथ सेना की भी परेशानी ख़त्म हो गयी है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कल जनता को 44 पुलों का तोहफा दिया, उन्होंने इस काम के लिए बॉर्डर रोड आर्गेनाईजेशन की तारीफ भी की। इसके साथ ही राजनाथ सिंह ने अरुणाचल प्रदेश में Nechiphu Tunnel की आधारशिला भी रखी, जिस प्रकार से हिमाचल प्रदेश में अटल टनल का निर्माण किया गया है उस तर्ज पर Nechiphu Tunnel का निर्माण किया जाएगा।

राजनाथ सिंह ने कहा कि BRO का एनुअल बजट 2008-2016 में जहाँ 3,300 Crores to Rs 4,600 करोड़ रुपये था वहीं 2020-21 में बजट में 11,000 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी की गयी है, कोविड के बावजूद भी BRO के बजट में कोई कमी नहीं रखी गयी, यही वजह है कि कोविड के दौरान भी 44 पुलों का निर्माण पूरा किया गया।

loading...