हाथरस केस में बड़ा खुलासा: योगी सरकार को बदनाम करने के लिए पाकिस्तान से की गई ये हरकत!

हाथरस केस की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है, वैसे-वैसे परत दर परत बड़े खुलासे हो रहे हैं, इसी कड़ी में अब एक और बड़ा खुलासा हुआ है, हाथरस कांड में भ्रम फैलाने के लिए पाकिस्तान और मध्य एशिया के ट्विटर हैंड से ट्वीट किए गए। इसके पीछे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार को बदनाम करना मुख्य उद्देश्य था। जांच एजेंसियां अब इसकी गंभीरता से पड़लात कर रही हैं।

सोशल मीडिया पर हाथरस कांड को लेकर भ्रम फैलाने के मामले में पीएफआई की संलिप्तता का पहले ही खुलासा हो चुका है। जांच कर रही एजेंसियों का दावा है कि ऐसा प्रदेश की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार को बदनाम करने के लिए सोशल मीडिया पर बड़ी साजिश रची गई थी।

घटना को जातीय हिंसा का रंग देने के लिए सोशल मीडिया के माध्यम से कई झूठे तथ्य प्रचारित किए गए। इसके लिए योगी सरकार को निशाना बनाते हुए बड़ी संख्या में पाकिस्तान और मध्य एशिया के देशों से ट्वीट कराए गए। पुलिस और जांच एजेंसियां अब पता लगाने में जुटी हैं कि क्या इसके पीछे भारत में सक्रिय किसी संगठन की साजिश तो नहीं थी।