मुंगेर की घटना दुर्भाग्यपूर्ण, कड़ी कार्यवाही हो, चाहे कोई कितना भी बड़ा अधिकारी हो: गिरिराज सिंह केंद्रीय मंत्री

मुंगेर, 27 अक्टूबर: भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने मुंगेर की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण व् बर्बरतापूर्ण बताते हुए इसमें शामिल दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग की है. मालूम हो कि बिहार के मुंगेर में दुर्गा पूजा प्रतिमा विसर्जन करने जा रहे हिन्दुओं पर पुलिस ने बर्बरतापूर्वक गोलियाँ चला दी, इस घटना के बाद देशभर में एनडीए सरकार के खिलाफ गुस्सा है,

मुंगेर की घटना को लेकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि मुंगेर में दुर्गा विसर्जन में हुई बर्बरता का पूरा कृत्य अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है, जांच के बाद जो कोई भी इसमें शामिल है, चाहे वह कितना भी बड़ा अधिकारी क्यों न हो उनपे करवाई हो।

बकौल गिरिराज सिंह, अपने ही देश में, अपने ही राज्य में, अपने ही घर में सनातन की रक्षा के लिए अपने ही लोगों के खिलाफ बर्बरतापूर्वक कार्यवाही हो, ये बर्दाश्त नहीं, मैं सरकार से मांग करता हूँ. इस मामलें की जांच के लिए एक कमिटी गठित की जाय और भी इसमें शामिल हो उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाय.

मिली जानकारी के मुताबिक, मुंगेर में दुर्गा पूजा के विसर्जन के दौरान पुलिस और श्रद्धालुओं की इस भिड़ंत में 1 युवक की मौत हो गई है, पुलिस की बर्बरता का भी वीडियो सामने आया है.वीडियो के वायरल होने के बाद जिला प्रशासन की खासी आलोचना हो रही है। पुलिस ने फायरिंग भी की, जिसमें एक युवक की मौत हो गई। 6 घायलों का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।

डीएम राजेश मीणा और एसपी लिपि सिंह ने इस मामले में सफाई देते हुए बयान जारी किए हैं। एसपी ने दावा किया है कि प्रतिमा विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने पुलिस पर पथराव किया और गोलीबारी की, जिसके बाद अपने बचाव में पुलिस ने कार्रवाई की।

मुंगेर पुलिस का कहना है कि दुर्गा पूजा विसर्जन के दौरान हुई इस घटना में उसके 20 जवान घायल हुए हैं और एक SHO स्तर के अधिकारी का सिर फट गया। एसपी ने युवक की मौत के लिए भी असामाजिक तत्वों की गोलीबारी को जिम्मेदार ठहराया है। वहीं, डीएम राजेश मीणा ने अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील करते हुए कहा कि स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है।