Nikita Murder Case में तीसरी गिरफ़्तारी, तौसीफ को कट्टा देने वाला अजरु भी गिरफ्तार

faridabad-ballabhgarh-news-nikita-tomer-murder-tausif-arrested

एकतरफा प्यार में पगलाए तौसीफ ने परीक्षा देकर घर लौट रही बी.कॉम फाइनल ईयर की छात्रा निकिता तोमर की दिनदहाड़े गोली मारकर ह्त्या कर दी, घटना फरीदाबाद के बल्लबगढ़ की है। इस घटना के बाद देशभर में आक्रोश है। फरीदाबाद पुलिस ने इस मामलें के मुख्य आरोपी तौसीफ और रेहान को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था, अब एक और गिरफ़्तारी हुई है.

निकिता तोमर की ह्त्या करने के लिए आरोपी तौसीफ़ा को कट्टा देने वाले आरोपी को फरीदाबाद क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया, आरोपी की पहचान नूँह निवासी अजरु के रूप में हुई है. फरीदाबाद पुलिस ने ट्वीट कर कहा है कि दर्जनों स्थानों पर छापेमारी करने के बाद अजरु को फरीदाबाद क्राइम ब्रांच ने नूँह से गिरफ्तार किया।

गौरतलब है कि एकतरफा में प्यार में पगलाए तोसीफ ने हिन्दू युवती निकिता तोमर की दिनदहाहे गोली मारकर ह्त्या कर दी, युवती निकिता तोमर बल्लबगढ़ के अग्रवाल कॉलेज में बीकॉम फाइनल ईयर की परिक्षा देने आयी थी, जैसे ही वह परिक्षा देकर बाहर निकली तौसीफ और रेहान ने उसे जबरन अपनी कार में बिठाने की कोशिश की, निकिता तोमर उसकी कार में नहीं बैठी तो उसने उसे गोली मार दी

इस पूरे मामले में हरियाणा सरकार ने जांच के लिए SIT का गठन कर दिया है। राज्य के गृह मंत्री अनिल विज ने रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क से बात करते हुए कहा कि, हम देखेंगे कि 2018 में जो मुकदमा रद्द हुआ था क्यों हुआ था, हो सकता है कि आरोपी के परिवार ने मुकदमा वापस लेने के लिए पिता पर दबाव बनाया हो। आरोपी का ताल्लुक कांग्रेस से है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मेवात का कांग्रेस विधायक आफताब आलम निकिता के हत्यारे तौसीफ का चाचा है.

गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि एसआईटी हर एंगल से जांच करेगी, किसी भी आरोपी को छोड़ेंगे नहीं, जो भी इसमें लिप्त होगा, उसे कड़ी से कड़ी सजा दिलवाई जायेगी।