NIA का बड़ा खुलासा: केरल सोना तस्करी में दाऊद इब्राहिम का हाथ, जाँच जारी

केरल सोना तस्करी मामले में आतंकी एंगल की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने बड़ा खुलासा किया है, एनआईए ने कोच्चि में एक विशेष अदालत में संकेत दिए कि उसे संबंधित रैकेट में माफिया डॉन दाऊद इब्राहीम के गिरोह के शामिल होने का संदेह है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने कहा कि सोने की तस्करी से मिलने वाले मुनाफे का इस्तेमाल राष्ट्रविरोधी गतिविधियों और आतंकी कृत्यों में होने की संभावना संबंधी खुफिया जानकारी है। इसने कहा कि मामले में जांच को आगे बढ़ाने के लिए 180 दिन तक सभी आरोपियों को न्यायिक हिरासत में रखा जाना अत्यंत आवश्यक है। एजेंसी ने सभी आरोपियों की जमानत याचिकाओं का विरोध किया।

बुधवार को केरल सोने की तस्करी मामले की जांच कर रही एनआईए ने कोच्चि की एक विशेष अदालत को बताया कि कुछ आरोपियों के दाऊद इब्राहिम के गिरोह से संबंध हैं और वे कई बार तंजानिया गए हैं, जहां अंडरवर्ल्ड डॉन का व्यापक नेटवर्क है, एनआईए का दावा है कि कुछ आरोपियों के देश विरोधी ताकतों से संबंध हैं।

कोर्ट में एनआईए ने कहा कि इस मामले में आरोपी नंबर 5 केटी रमीज और आरोपी नंबर 13 एम शराफुद्दीन ने तंजानिया का कई बार दौरा किया है और दाऊद के संपर्क वाले फिरोज ओएसिस से मुलाकात की और देश में आग्नेयास्त्रों की तस्करी के तरीकों पर चर्चा की। फिलहाल इस मामलें की जांच जारी है।

loading...