हाथरस केस: CM योगी ने दिए सीबीआई जांच के आदेश तो भड़की मायावती, बोलीं- ऐसे कैसे हो पाएगी निष्पक्ष जांच

cm-yogi-adityanath-attack-mayawati

हाथरस केस का सच सामने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीबीआई को कमान सौंप दी है, सीबीआई अब हाथरस मामलें की जांच करेगी। बसपा प्रमुख मायावती ने सीबीआई जांच पर संदेह जताया है, जबकि 24 घंटे पहले ट्वीट करके मायावती ने ट्वीट करके सीबीआई जांच की मांग की थी, लेकिन अब संदेह जता रही हैं.

बसपा प्रमुख और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने अपने ट्वीट में लिखा- हाथरस गैंगरेप काण्ड के पीड़ित परिवार ने जिले के डीएम पर धमकाने आदि के कई गंभीर आरोप लगाए हैं, फिर भी यूपी सरकार की रहस्मय चुप्पी दुःखद व अति-चिन्ताजनक। हालाँकि सरकार CBI जाँच हेतु राजी हुई है, किन्तु उस डीएम के वहाँ रहते इस मामले की निष्पक्ष जाँच कैसे होे सकती है? लोग आशंकित।

आपको बता दें कि इससे पहले मायावती ने अपने ट्वीट में लिखा था – हाथरस जघन्य गैंगरेप काण्ड को लेकर पूरे देश में ज़बरदस्त आक्रोश है। इसकी शुरूआती आई जाँच रिपोर्ट से जनता सन्तुष्ट नहीं लगती है। अतः इस मामले की CBI से या फिर माननीय सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में जाँच होनी चाहिये, बी.एस.पी. की यह माँग। इस ट्वीट में मायावती ने डीएम का जिक्र नहीं किया था जबकि अचानक अब इन्हें डीएम धमकीबाज लगने लगा.

आपको बता दें कि मामला बढ़ने के बाद सीएम योगी ने सीबीआई जांच के आदेश दे दिया, मुख्यमंत्री कार्यालय ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि सीएम योगी के आदेश के बाद सीबीआई जांच की सिफारिश की गई है। दलित युवती के साथ कथित गैंगरेप और उसके बाद हुई उसकी मौत के मामले की जांच पहले से ही एसआईटी कर रही है। राज्य सरकार ने इस मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने का फैसला लिया था। हालांकि विवाद बढ़ने के बाद राज्य सरकार ने अब इस केस को सीबीआई को सौंपने का फैसला किया है।

loading...