बलरामपुर: दलित लड़की के साथ गैंगरेप कर की वीभत्सता, आरोपी शाहिद व् मोहम्मद साहिल गिरफ्तार

बलरामपुर, 1 अक्टूबर: हाथरस के बाद अब उत्तर प्रदेश के बलरामपुर से गैंगरेप और मर्डर का दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है, आरोपियों ने एक दलित लड़की के साथ न सिर्फ गैंगरेप किया बल्कि उसके बाद पीड़िता के साथ वीभत्सता भी की, पैर और कमर तोड़ दिए. इस मामलें में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, आरोपियों की पहचान मोहम्मद शाहिद और मोहम्मद साहिल के रूप में हुई है।

जानकारी के अनुसार, बलरामपुर में एक 22 वर्षीय छात्रा को अगवा कर गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया है. घटना उस वक्त हुई जब छात्रा एक कॉलेज में एडमिशन के लिए गयी हुई थी। घटना के बाद सड़क पर लावारिस हालात में दरिंदे उसे छोड़कर फरार हो गए. एक रिक्शे वाले ने उसे घर तक पहुंचाया जिसके कुछ घण्टे बाद ही उसकी मौत हो गयी।

मंगलवार की सुबह करीब 10 बजे छात्रा अपने घर से एक कॉलेज में एडमिशन के लिए गई थी। पीड़िता की मां के मुताबिक, तभी कुछ लड़कों ने उसका अपहरण कर लिया और उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया. शाम तक न लौटने पर परिजनों ने उसे फोन करना शुरू किया तो उसका फोन बंद आ रहा था. लड़की को एक रिक्शा वाला एक नाबालिग बच्चे के साथ बेहोशी की हालत में तकरीबन 7 बजे लेकर आता है. लड़की की हालत बेहद खराब थी और वो कुछ भी नहीं बोल पा रही थी. उसके हाथ पर ग्लूकोज चढ़ाने वाला वीगो लगा हुआ था।

22 साल की दलित छात्रा के साथ हाथरस जैसी हैवानियत बरती गई। गैंगरेप के बाद उसकी कमर और दोनों पैर तोड़ दिए गए। मुंह बंद करने के लिए घातक इंजेक्शन ठूंस दिया इसके बाद छात्रा को रिक्शे में बिठाकर घर भेज दिया गया, जहां कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई।

घटना को लेकर पुलिस अधीक्षक देव रंजन वर्मा ने बताया कि मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। घटना की जांच की जा रही है। गिरफ्तार आरोपियों के नाम शाहिद और साहिल है। दोनों गैंसड़ी के रहने वाले हैं। दोस्ती के बहाने दलित युवती से रेप का आरोप है।

loading...