राजस्थान: रेपिस्टों के समर्थन में खड़े हुए अशोक गहलोत, रेप पीड़िताओं को ठहरा दिया झूठा!

अजमेर,1 अक्टूबर: राजस्थान के अजमेर से गैंगरेप की एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है, जी हाँ! दो नाबालिग लड़कियों ने दरिंदों ने तीन दिनों तक गैंगरेप किया, पीड़िताएं खुद कह रही हैं कि उनके साथ रेप हुआ है लेकिन राजस्थान के मुख्यमंत्री व् कांग्रेस नेता अशोक गहलोत मानने को तैयार नहीं है. अशोक गहलोत पीड़िता को झूठा साबित करके परोक्ष रूप से रेपिस्टों का समर्थन कर रहे हैं उनका हौंसला बढ़ा रहे हैं. ये घटना अजमेर के बारां की है।

रेप पीड़िताओं को झूठा साबित करते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने ट्वीट में लिखा, बारां में बालिकाओं ने स्वयं मजिस्ट्रेट के समक्ष दिए 164 के बयानों में अपने साथ ज्यादती नहीं होने एवं स्वयं की मर्जी से लड़कों के साथ घूमने जाने की बात कही। बालिकाओं का मेडिकल भी करवाया गया एवं अनुसन्धान में सामने आया कि लड़के भी नाबालिग हैं, जांच आगे भी जारी रहेगी।

जबकि लड़कियों ने खुद कैमरे के सामने आकर कहा है की उनका 3 दिनों तक गैंगरेप किया गया है, पर अशोक गहलोत जिनकी पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के बाद छोड़ दिया वो कह रहे है कि ऐसा कुछ हुआ ही नहीं।

जी राजस्थान के मुताबिक, 2 नाबालिग लड़कियों को कोटा, जयपुर अजमेर तक ले गए आरोपी। तीन दिन तक गैंगरेप किया नाबालिग लड़कियों के साथ। गैंगरेप करने के बाद आरोपियों ने पुलिस के सामने कुछ बोलने पर पीड़िता को जान से मारने की धमकी भी दी. लेकिन इस घटना पर सब मौन हैं।