सुशांत केस: रिपब्लिक के खुलासे से बुरी तरह फंसे के AIIMS के फॉरेंसिक हेड डॉ सुधीर गुप्ता

सुशांत सिंह राजपूत मामलें में अचानक यु-टर्न करना डॉ सुधीर गुप्ता को काफी महंगा पड़ गया है, रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क ने एक टेप जारी करके डॉ सुधीर गुप्ता के दावों की हवा निकाल दी है।

दरअसल एम्स के फॉरेंसिक टीम ने शनिवार को सीबीआई को अपनी फाइनल रिपोर्ट दी, रिपोर्ट में दावा किया गया था कि सुशांत की हत्या नहीं हुई थी, बल्कि उन्होंने सुसाइड ही किया था. एम्स की फोरेंसिक टीम ने ये रिपोर्ट डॉ सुधीर गुप्ता की अगुवाई में तैयार की थी।

डॉ सुधीर गुप्ता एम्स के फरेंसिक हेड हैं, उन्होनें कहा था कि हमने अपनी फाइनल रिपोर्ट तैयार कर ली है। यह पूरी तरह से फांसी लगाए जाने और आत्महत्या का मामला है। उन्होंने आगे कहा, ‘सुशांत की बॉडी पर फांसी के अलावा कोई अन्य चोट के निशान नहीं थे. मृतक की बॉडी या कपड़ों पर भी कोई संघर्ष/हाथापाई के निशान भी नहीं पाए गए हैं. हालाँकि रिपब्लिक ने बड़ा खुलासा करके सुधीर गुप्ता के झूठ की पोल खोल दी है।

रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क ने एक टेप जारी किया है जिसमें रिपब्लिक के रिपोर्टर से बात करते हुए एम्स के फॉरेंसिक हेड डॉ सुधीर गुप्ता कहते हैं कि सुशांत की ह्त्या हुई है, क्राइम सीन एकदम तहस-नहस कर दिया गया था। रिपब्लिक के रिपोर्टर और डॉ सुधीर गुप्ता की बातचीत तीन हफ्ते पुरानी है। यही नहीं बातचीत में डॉ सुधीर गुप्ता मुंबई पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठाते हैं लेकिन अचानक उनके यु-टर्न से सब हैरान हो गए, अब इस टेप के सामने आने के बाद डॉ सुधीर गुप्ता बुरी तरह से फंस गए हैं।

सूत्रों के मुताबिक, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय डॉ सुधीर गुप्ता की इस हरकत से काफी नाराज है, मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, जल्द ही डॉ सुधीर गुप्ता को तलब किया जाएगा कि और उनसे कुछ बुनियादी सवाल किये जायेंगें, जैसे- आपने शुरुवात में कैसे कहा कि सुशांत की ह्त्या हुई है, एकाएक आप कैसे कहने लगे की सुशांत ने आत्महत्या की। ऐसे सवालों के जवाब डॉ सुधीर गुप्ता को देने होंगें।