हाथरस: कोरोना संक्रमित होने के बावजूद पहुंचा AAP विधायक, खतरे में पड़ी पीड़ित परिवार की जान, गाँव में दहशत

हाथरस केस में राजनीति अपने चरम पर है, लगभग सभी विपक्षी पार्टियों के नेता हाथरस पहुँच रहे हैं अपनी राजनीतिक रोटियाँ सेंकने, इसी कड़ी में सोमवार को राज्यसभा सांसद संजय सिंह की अगुवाई में आम आदमी पार्टी का एक डेलिगेशन भी पीड़ित परिवार से मुलाक़ात करने पहुंचा। इस डेलिगेशन में आम आदमी पार्टी के विधायक कुलदीप कुमार भी थे जो कोरोना पॉजिटिव हैं, इसके बावजूद पीड़ित परिवार से मिलने गए।

MLA कुलदीप कुमार की घोर लापरवाही से हाथरस पीड़ित परिवार की जान संकट में आ गई है. जैसे ही उन्हें खबर मिली कि जो विधायक उनसे मिलकर गए हैं वे कोरोना संक्रमित थे परिजन दहशत में आ गए, इसके बाद से परिजन बाहरी लोगों से दूरी बना रहे हैं. इतना ही नहीं आप विधायक की इस करतूत से पूरे गांव में कोरोना फैलने की आशंका जताई जा रही है।

मंगलवार को जैसे ही जानकारी सामने आई कि एक बड़े टीवी चैनल की पत्रकार समेत कई लोग कोरोना संक्रमित हो गए हैं तुरंत शासन से कोरोना टेस्टिंग के लिए गांव में टीमें भेजने का आदेश दिया गया।

बता दें कि दिल्ली की कोंडली विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के विधायक कुलदीप कुमार 6 दिन पहले कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट आने के बाद भी आप विधायक सोमवार को हाथरस (Hathras) पीड़ित परिवार से मिलने पहुंच गए. अब उनका उनका पिछला ट्वीट वायरल हो रहा है जिसमें उन्होंने कोरोना से संक्रमित होने की कही है.

अब सवाल उठता है कि जब विधायक कोरोना से संक्रमित थे तो फिर वो परिजनों से मिलने क्यों पहुंचे. क्योंकि पॉजिटिव आने के बाद 15 दिन तक क्वारंटीन होना होता है. उसके बाद टेस्ट कराना होता है अगर टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव है तभी आप बाहर निकल सकते हैं।