योगी सरकार ने किया ‘UP स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स’ का गठन, बिना वॉरंट तलाशी लेने और गिरफ्तार करने की छूट

लखनऊ, 13 सितंबर: उत्तर प्रदेश सरकार ने एक विशेष पुलिस बल का गठन किया है। जिसका नाम है, ‘UP स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स’ इस सुरक्षाबल को विशेष शक्तियां दी गई हैं, औद्योगिक प्रतिष्ठानों, प्रमुख स्थलों, हवाई अड्डों, मेट्रो, कोर्ट समेत अन्य स्थानों की सुरक्षा के लिए गठित हुए इस विशेष सुरक्षा बल के पास बिना वॉरंट तलाशी लेने और तुरंत गिरफ्तारी करने का अधिकार होगा। इस नई फोर्स का नेतृत्व एडीजी स्तर का अधिकारी करेगा।

‘UP स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स’ किसी ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार कर सकेगा जो उसे प्रतिष्ठानों की सुरक्षा के दौरान कर्तव्यों का पालन करने से रोकता है, वहां हमला करने, हमला करने की धमकी देने, आपराधिक बल का प्रयोग करने की कोशिश करता है। इसके लिए बल के सदस्यों को किसी मैजिस्ट्रेट के वॉरंट की जरूरत नहीं होगी। संदेह के आधार पर बिना वॉरंट तलाशी भी ली जा सकेगी। हालांकि गिरफ्तारी के बाद वरिष्ठ अधिकारियों को जानकारी देनी होगी और गिरफ्तार व्यक्ति को थाने के हवाले करना होगा।

उत्तर प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था को सुधारने के लिए ‘UP स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स’ मील का पत्थर साबित हो सकता है, सरकार की तरफ से नया अधिनियम बना कर इस सुरक्षाबल को कुछ विशेष शक्तियां दी गई हैं जो यूपी पुलिस के पास नहीं है।

loading...