सुब्रमण्यम स्वामी ने खोला भाजपा IT सेल चीफ अमित मालवीय के खिलाफ मोर्चा, 24 घंटे के अंदर पार्टी से हटाने की मांग

नई दिल्ली, 9 सितंबर: भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता व् राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने भाजपा आईटी सेल चीफ अमित मालवीय के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है, स्वामी ने अमित मालवीय को 24 घंटे के अंदर पार्टी से निष्काषित करने की मांग की है. स्वामी ने ट्वीट कर कहा कि अगर कल (गुरुवार) तक अमित मालवीय को नहीं हटाया गया, तो इसका मतलब ये होगा कि पार्टी मुझे नहीं बचाना चाहती है।

भाजपा के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने अपने ट्वीट में लिखा, अगर कल तक अमित मालवीय को भाजपा आईटी सेल से नहीं हटाया गया, तो इसका मतलब पार्टी मुझे डिफेंड नहीं करना चाहती है। अगर पार्टी में ऐसा कोई फोरम नहीं है जहां मैं अपनी राय रख सकूं तो मुझे ही खुद को डिफेंड करना होगा। आपको बता दें कि सुब्रमण्यम स्वामी मंगलवार से ही मालवीय के खिलाफ ट्वीट पर ट्वीट कर रहे हैं.

इससे पहले भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने हमला बोलते हुए कहा कि ‘बीजेपी आईटी सेल बेकार हो चली है. इसके कुछ सदस्य मुझ पर निजी हमले करने के लिए फर्जी आईडी ट्वीट्स का इस्तेमाल कर रहे हैं, स्वामी आगे भाजपा सांसद आगे लिखते हैं, अगर मेरे नाराज समर्थक काउंटर में निजी हमले शुरू कर दें तो मुझे जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता जैसे कि भाजपा को बेकार पार्टी आईटी सेल के लिए जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है।

आपको बता दें कि ये पहली बार नहीं है जब सुब्रमण्यम स्वामी ने अपनी ही पार्टी के नेताओं पर निशाना साधा हो, स्वामी का सिद्धांत के तौर पर भाजपा से अक्सर मतभेद सामने आता है. वह तमाम मुद्दों पर अपनी अलग राय रखते हैं। यहाँ तक स्वामी ने यहाँ तक कह दिया था राम मंदिर बनवाने में सरकार का कोई योगदान नहीं है, सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर बन रहा है। ऐसे तमाम ज्वलंत मुद्दों पर स्वामी भाजपा के विपरीत राय रखते हैं।