किसी BJP नेता ने कहे होते अपशब्द तो सड़कों पर आ जाती तख्ती गैंग, संजय राऊत की बदतमीजी पर सब खामोश

मुंबई, 6 सितंबर: बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत लगातार सुशांत सिंह राजपूत को इन्साफ दिलाने की लड़ाई में सक्रिय हैं, जो महाराष्ट्र की सत्तारूढ़ शिवसेना को रास नहीं आ रहा है लिहाजा शिवसेना नेता कंगना को धमका रहे हैं, पहले संजय राउत ने कंगना को मुंबई न आने की धमकी दी, इसके बाद शिवसेना के एक विधायक ने दो कदम आगे बढ़ते हुए कंगना रनौत की टांग तोड़ने की धमकी दे डाली। मामला सिर्फ यहीं नहीं थमा अब संजय राउत ने कैमरे के सामने कंगना रनौत के खिलाफ बेहद ही गंदे शब्दों का इस्तेमाल किया।

खुलेआम कैमरे के सामने संजय राउत द्वारा अभिनेत्री कंगना रनौत को दी गई गाली ( हरामखोर ) पर सभी खामोश हैं, अब किसी को महिला के सम्मान की चिंता नहीं सत्ता रही है, अगर भाजपा के किसी सांसद या विधायक नही बल्कि किसी बूथ के कार्यकर्ता ने भी किसी महिला के लिए अपशब्द “हरामखोर” बोल दिया होता तो अबतक लोकतंत्र खतरे में आ जाता, बड़ी बिंदी गैंग से लेकर तख्ती गैंग सड़को पर निकल आई होती पर गाली उनके चहेते ने दी है इसलिए आज सब मौन धारण कि हुई है।

आपको बता दें कि बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत और शिवसेना नेता संजय राउत के बीच ३-4 दिनों से विवाद चल रहा है जो थमने का नाम नहीं ले रहा है, आए दिन दोनों एक-दूसरे पर निशाना साध रहे हैं और इसके लिए शब्दों के तीखे तीर भी छोड़े जा रहे हैं लेकिन शनिवार (सितंबर 5, 2020) को संजय राउत ने सारी हदें पार करते हुए कैमरे के सामने कंगना रनौत को गाली (हरामखोर) दे दी। इससे पहले शिवसेना के एक विधायक ने कंगना की टाँग तोड़ने की धमकी दी थी।

शनिवार को न्यूज़ नेशन से बात करते हुए संजय राउत ने कंगना रनौत को धमकी देते हुए कहा कि मुझे लगता है उसके ( कंगना ) बाप को यहाँ लाना पड़ेगा। इसके बाद संजय राउत ने कहा कि शिवसेना समेत सभी पार्टियां ( शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी ) मिलकर तय करेंगी कंगना के साथ क्या करना है।

इसके बाद रिपोर्टर ने पूछा आपकी सरकार है, क्या कानून के खिलाफ कदम उठाएंगें, इस सवाल पर भड़कते हुए संजय राउत ने कहा कि क्या होता है कानून, उस लड़की ने जो बात किया वो कानून का रिस्पेक्ट है क्या, इसके बाद रिपोर्टर पर ही गुस्सा निकालते हुए संजय राउत ने कहा कि आप क्यों उस हरामखोर लड़की ( कंगना रनौत ) की वकीली कर रहे हो, जिसने शिवाजी का अपमान किया हो. महाराष्ट्र का अपमान किया है, आप उसकी तरफदारी कर रहे हो।