महिला होकर महिला का विरोध: कंगना को मिली सुरक्षा तो भड़की प्रियंका चतुर्वेदी, बीजेपी को कोसा

शिवसेना नेताओं द्वारा धमकी दिए जाने के बाद बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत को गृहमंत्रालय ने वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है, जिसपर अब राजनीति तेज हो गई है। शिवसेना की राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने केंद्र सरकार पर कड़ा प्रहार किया है। उन्होंने बीजेपी पर मुंबई-महाराष्ट्र का ‘अपमान’ करने वालों को सुरक्षा देने का आरोप लगाया है।

प्रियंका चतुर्वेदी ने अपने ट्वीट में कहा है कि ये वही मुंबई पुलिस है जिन्होंने आतंकी कसाब को पड़का था। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि मुंबई पुलिस ने ही राज्य में माफियाओं/अंडरवर्ल्ड के शासन को समाप्त किया है।

प्रियंका आगे लिखती हैं कि मुंबई का अपमान करने वालों को सुरक्षा देकर BJP ने ये दिखा दिया है कि उसको मुंबई और महाराष्ट्र से कितनी नफरत है। किसी को ये नहीं भूलना चाहिए कि मुंबई पुलिस ने ही कसाब को जिंदा पकड़ा था.

प्रियंका चतुर्वेदी ने न सिर्फ महिला होकर एक महिला का विरोध किया है बल्कि महिला को अपशब्द कहने वालों को जस्टिफाई भी किया है, संजय राउत ने हरामखोर कहा, प्रियंका खामोश रही, शिवसेना विधायक ने कंगना की टाँग तोड़ने की धमकी दी, फिर भी प्रियंका गांधी खामोश रही. तब उन्हें नहीं लगा कि महिला का अपमान हो रहा और एक महिला के नाते उन्हें आवाज उठानी चाहिए।

मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ बयानबाजी के बाद शिवसेना के कई नेताओं द्वारा एक्ट्रेस को धमकी मिल रही थी, जिसके बाद उन्हें Y कैटेगरी की सुरक्षा दी गई है। कंगना रनौत ने 9 सितंबर को मुंबई पहुंचने का ऐलान किया है।