संजय राउत की बढ़ेंगी मुश्किलें, कंगना रनौत ने बॉम्बे हाई कोर्ट में बनाया पार्टी

मुंबई, 22 सितंबर: कंगना रनौत और शिवसेना सांसद संजय राउत के मध्य मचे विवाद के बीच शिवसेना नियंत्रित बीएमसी ने मुंबई के बांद्रा में स्थित कंगना का बँगला तोड़ दिया था, इसके बाद ये मामला बॉम्बे हाईकोर्ट पहुंचा।

कंगना रौनत के ऑफिस में हुई तोड़फोड़ के मामले में सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट ने शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता संजय राउत और बीएमसी के एच-वेस्ट वॉर्ड के अधिकारी भाग्यवंत लाते को अभियोजित करने यानी पार्टी बनाने की इजाजत अभिनेत्री कंगना को दे दी है। संजय राउत ने ‘उखाड़ के रख दूंगा’ और ‘उखाड़ दिया’ जैसे वाक्य बोले थे और कंगना ने कहा था कि इन वाक्यों के जरिए उन्हें धमकाने की कोशिश की गई।

आपको बता दें कि 9 सितंबर को बीएमसी ने कंगना के बांद्रा स्थित ऑफिस के कुछ हिस्सों को अवैध बताकर तोड़ दिया था। हाई कोर्ट में कंगना ने बीएमसी की कार्रवाई को रोकने की मांग की थी, लेकिन यथास्थिति बनाए रखने का फैसला आने से पहले ही उनके ऑफिस में तोड़फोड़ की कार्रवाई कर दी गई। इसलिए कंगना ने अपनी याचिका में संशोधन करके बीएमसी से 2 करोड़ रुपये के मुआवजा की मांग की। इसके बाद बीएमसी ने अपने जवाब में दावा किया कि कंगना की याचिका कानूनी प्रक्रिया का दुरुपयोग है, इसीलिए अभिनेत्री की याचिका ख़ारिज करके उन पर जुर्माना लगाना चाहिए।

loading...