स्वास्थ्य मंत्रालय की सलाह, कोरोना पीरियड में करें इन 2 चीजों का करें सेवन, जल्द होगी रिकवरी

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी है, कोरोना वायरस से न सिर्फ ज्यादातर लोगों की जाने जा रही बल्कि अर्थव्यस्था को भी तगड़ा झटका लग रहा है, राहत की बात यह है कि भारत में रिकवरी रेट काफी बढ़िया है अर्थात कोरोना से ठीक व् जल्द ठीक होने वालों की संख्या ज्यादा है, लंबे समय से हमारे देश में हर दिन 80 से 90 हजार और कई बार 90 हजार से अधिक नए कोरोना मरीज मिल रहे हैं।

इस स्थिति में यह वायरस एक बार फिर खौफ पैदा करने लगा है। इस समय कोरोना वायरस के बारे में हमारे सायंटिस्ट्स और डॉक्टर्स के पास काफी डिटेल है। जबकि संक्रमण के शुरुआती समय पर इसके बारे में हमारे हेल्थ ऐक्सपर्ट्स के पास कोई जानकारी नहीं थी।

समय-समय पर आयुष मंत्रालय और दुनिया के सभी बड़े हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन जैसे विश्व स्वास्थ्य संगठन और सीडीसी इस वायरस से जुड़ी ताजा जानकारियों के साथ ही नई-नई गाइड लाइन्स भी जारी कर रहे हैं। इसी क्रम में भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से ताजा गाइड लाइन्स उन लोगों के लिए जारी की गई हैं, जिन्होंने कोरोना को मात दे दी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, जो लोग कोरोना वायरस को मात दे चुके हैं, उनका खास खयाल रखने की जरूरत है। ताकि वे अन्य किसी बीमारी की चपेट में आने से बच सकें। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि जो लोग कोरोना संक्रमण को मात देखकर ठीक हो चुके हैं, उन्हें अपने दैनिक जीवन में गर्म पानी और च्यवनप्राश का उपयोग करना चाहिए। क्योंकि ये दोनों ही चीजें किसी अन्य बीमारी को पनपने से रोकती हैं और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को तेजी से बढ़ाती हैं।

गर्म पानी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में बहुत सहायक होता है। क्योंकि यह हमारे पाचन को सही रखने का काम करता है। भारत में च्यवनप्राश का सेवन करने की परंपरा सदियों पुरानी है। च्यवनप्राश निरोग रहने की एक आयुर्वेदिक औषधि है। जो लोग नियमित रूप से च्यवनप्राश का सेवन करते हैं, उन्हें जल्दी से कोई बैक्टीरिया या वायरस नहीं घेरता है।

loading...