दिल्ली RIOTS 2020: चार्जशीट में सीताराम येचुरी, योगेन्द्र यादव जैसे बड़े नाम, साजिश रचने का आरोप

बीते फ़रवरी महीनें में नागरिकता संसोधन कानून ( CAA ) के विरोध में उत्तर पूर्वी दिल्ली में दंगे हुए थे, इस दंगें में कई लोगों की ह्त्या की गई थी और सरकारी सम्पत्ति को जलाकर राख किया गया था, इस मामलें में दिल्ली पुलिस की तरफ से दायर सप्लीमेंट्री चार्जशीट में सीपीआई महासचिव सीताराम येचुरी और स्वराज अभियान नेता योगेन्द्र यादव का नाम सह-साजिशकर्ता के तौर पर लिया गया है। इसके साथ ही, अर्थशास्त्री जयति घोष, दिल्ली यूनिवर्सिटी प्रोफेसर अपूर्वानंद और डॉक्यूमेंट्री फिल्ममेकर राहुल राय जैसे बड़े नामों को भी नाम इस चार्जशीट में शामिल किया गया है।

गौरतलब है कि पूर्वी दिल्ली में नागरिकता कानून का विरोध कर रहे लोगों ने जमकर आतंक मचाया था, 24 फरवरी को पूर्वोत्तर दिल्ली में सांप्रदायिक झड़पें हुई थीं, जिसमें कम से कम 53 लोगों की मौत हो गई थी और लगभग 200 लोग घायल हो गए थे।

24 फरवरी को उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, घोंडा, चांदबाग, शिव विहार, भजनपुरा, यमुना विहार इलाकों में सांप्रदायिक दंगे भड़क गए थे। इस हिंसा में कम से कम 53 लोगों की मौत हो गई थी और 200 से अधिक लोग घायल हो गए थे। साथ ही सरकारी और निजी संपत्ति को भी काफी नुकसान पहुंचा था। CAA विरोधी उग्र भीड़ ने ने मकानों, दुकानों, वाहनों, एक पेट्रोल पम्प को फूंक दिया था और स्थानीय लोगों तथा पुलिस कर्मियों पर पथराव किया।

दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन लाल की 24 फरवरी को गोकलपुरी में हुई हिंसा के दौरान गोली लगने से मौत हो गई थी, कई पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल गए थे।आईबी अफसर अंकित शर्मा की हत्या करने के बाद उनकी लाश नाले में फेंक दी गई थी।

loading...