दिल्ली पुलिस ने एक वामपंथी पत्रकार को किया गिरफ्तार, पैसे लेकर चीन को दे रहा था सेना की जानकारियां

नई दिल्ली, 19 सितंबर: दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे पत्रकार को गिरफ्तार किया है, जो पत्रकार का चोला ओढ़कर पैसे लेकर देश से के साथ गद्दारी करने का कार्य करता था, इस पत्रकार का नाम है, राजीव शर्मा, जानकारों का मानना है कि राजीव शर्मा का झुकाव वामपंथ की ओर ज्यादा है।

दिल्ली पुलिस के अनुसार फ्रींलांस जर्नलिस्ट राजीव शर्मा पैसे लेकर नियंत्रण रेखा पर सेना की तैनाती और भारत की सीमा रणनीति की जानकारी चीनी खुफिया तंत्र को दे रहा था।

पुलिस के अनुसार चीनियों को गोपनीय सूचना देने के आरोप में गिरफ्तार राजीव शर्मा को गत डेढ़ साल में 40 लाख रुपये मिले। शर्मा को प्रत्येक सूचना के बदले 1000 डॉलर मिलते थे। दिल्ली पुलिस ने बताया कि स्वतंत्र पत्रकार राजीव शर्मा को केंद्रीय खुफिया एजेंसी की सूचना के आधार पर 14 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। उसके पास से रक्षा मंत्रालय के गोपनीय दस्तावेज मिले हैं।

दिल्ली के पीतमपुरा इलाके में रहने वाला राजीव शर्मा साल 2010 से फ्रीलांसर पत्रकारिता कर रहे थे। वह चीन के मुखपत्र ‘ग्लोबल टाइम्स’ के लिए भी लिखते थे। चीन के एक एजेंसी जासूस माइकल से राजीव 2016 में संपर्क में आया था। दिल्ली पुलिस का कहना है कि पत्रकार राजीव शर्मा ने चीनी खुफिया को संवेदशील जानकारी मुहैया कराई है। इस मामले में एक चीनी महिला और उसके नेपाली सहयोगी को भी कंपनियों के माध्यम से बड़ी मात्रा में पैसे देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। इन लोगों से भी पूछताछ की जा रही है।

loading...