CRPF के डिप्टी कमांडेंट राहुल की बहादुरी, 2 गोलियां लगने के बावजूद घर में घुसकर आतंकी को ढ़ेर कर दिया

जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में गुरुवार सुबह बटमालू के फिरदौसाबाद में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई, इसके बाद सेकेंड इन कमांड नरेंद्र यादव की अगुवाई में सीआरपीएफ की क्यूएटी और जम्मू-कश्मीर की एसओजी ने इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू किया।

सुरक्षा बलों की टीम तड़के 3.15 बजे उस घर पर पहुंची, जहां आतंकी छिपे थे. सीआरपीएफ के डिप्टी कमांडेंट राहुल माथुर ने देखा कि गेट बंद है. इसके बाद वह दीवार को पार करके खिड़की के रास्ते घर के अंदर घुस गए, राहुल माथुर और उनकी टीम घर की तलाशी ले रही थी, तभी एक आतंकी ने फायरिंग शुरू कर दी।

डिप्टी कमांडेंट राहुल माथुर को ऊपरी सीने और पेट में गोली लगी और वह घायल हो गए. इसके बाद भी राहुल माथुर ने आतंकी का सामना किया और आतंकी को मार गिराया।

घायलावस्था में राहुल माथुर को 92 बेस हॉस्पिटल पहुंचाया गया, जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। राहुल माथुर की बहादुरी का जिक्र करते हुए सीआरपीएफ के डीजी एपी माहेश्वरी ने बताया कि उन्हें दो गोलियां लगी हैं। राहुल माथुर के घायल होने के बाद भी सुरक्षाबलों ने अपने ऑपरेशन को जारी रखा. हालांकि, अंधेरे के कारण थोड़ी देर के लिए ऑपरेशन को रोक दिया गया. सुबह सीनियर अधिकारियों के पहुंचने के बाद सुरक्षाबलों ने फिर ऑपरेशन शुरू किया और दो और आतंकियों को मार गिराया.

loading...