हाथरस काण्ड: CM योगी ने की पीड़िता के पिता से बात, परिवार को 25 लाख, नौकरी और घर देने का किया ऐलान

हाथरस के चंदपा क्षेत्र के बुलगाड़ी में कथित गैंगरेप की शिकार पीड़िता की मौत के बाद पूरे देश में गुस्सा है, लोगों की मांग है कि आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाय, इस मामलें की जांच करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम ( एसआईटी ) का गठन कर दिया है, इसके अलावा सीएम योगी ने पीड़िता के पिता से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत की और परिवार को न्याय की गारन्टी दी।

बुधवार शाम को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस की पीड़िता के पिता से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से बातचीत, परिवार को न्याय का आश्वाशन दिया और परिवार को 25 लाख की राशि, घर के एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी व परिवार को शहर में घर देने की की घोषणा भी की.

आपको बता दें कि हाथरस काण्ड की जांच के लिए सीएम योगी ने एसआईटी का गठन कर दिया है, एसआईटी सात दिनों बाद अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंपेगी, इसके अलावा सीएम योगी ने आरोपियों के खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाने के कड़े निर्देश दिए हैं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस की घटना के लिए दोषी व्यक्तियों के खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाने और प्रभावी पैरवी करने के स्पष्ट निर्देश दिए हैं। सीएम द्वारा द्वारा हाथरस की घटना पर जांच हेतु तीन सदस्यीय SIT गठित की गई है जिसमें अध्यक्ष सचिव गृह श्री भगवान स्वरूप एवं श्री चंद्रप्रकाश, पुलिस उपमहानिरीक्षक व श्रीमती पूनम, सेनानायक पीएसी आगरा सदस्य होंगे। SIT अपनी रिपोर्ट 7 दिन में प्रस्तुत करेगी।