मुंबई में है आतंकी दाऊद इब्राहिम की अवैध बिल्डिंग, हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद BMC ने नहीं तोडा!

मुंबई, 10 सितंबर: बुधवार को शिवसेना की शह पर बीएमसी ने कंगना के ऑफिस को अवैध बताते हुए तोड़ दिया. ये वही बीएमसी है जिसे दो महीने पहले ही भिंडी बाजार इलाके में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की प्रोपर्टी न तोड़ने पर हाईकोर्ट की कड़ी फटकार लगी थी।

जानकारी के अनुसार, दाऊद इब्राहिम की मुंबई के भिंडी बाजार में अवैध संपत्ति है जो हाजी इस्माइल मुसाफिरखाना इमारत के नाम से जानी जाती है, हाईकोर्ट ने इसे तोड़ने का आदेश दिया था, कोर्ट ने कहा था कि मानसून आने पर अगर ये इमारत या इसका कोई हिस्सा गिरता है तो इससे जानमाल की क्षति हो सकती है. इससे पहले इस ईमारत को तोड़ दिया जाय लेकिन बीएमसी अभी तक इस बिल्डिंग को तोड़ने की हिम्मत नहीं जुटा पाई जबकि कंगना के ऑफिस को 24 घंटे के अंदर नोटिस भेजा और तोड़ दिया।

जून 2020 में बॉम्बे हाईकोर्ट ने BMC और महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (MHADA) को फटकार लगाते हुए पूछा था कि उन्होंने भिंडी बाजार में स्थित जीर्ण-शीर्ण इमारत को क्यों नहीं ध्वस्त किया? बीएमसी उस समय कोई जवाब नहीं दे पाई।

आपको बता दें कि मुंबई की नगरपालिका जिसे BMC कहते है उसपर कई दशकों से शिवसेना का ही कण्ट्रोल है, राज्य में अभी शिवसेना का ही मुख्यमंत्री है, मुंबई में हजारों नहीं बल्कि लाखों निर्माण गैरकानूनी है, इस मुंबई शहर में तो आतंकवादियों की भी प्रॉपर्टीयां है पर बीएमसी ने अबतक किसी पर अपना बुलडोजर नहीं चलाया, बीएमसी ने सिर्फ एक महिला मर्दानगी दिखाई।

loading...