बीएमसी ने तोड़ा कंगना रनौत का दफ्तर, भाजपा सांसद ने महाराष्ट्र सरकार को बताया नपुंसक

मुंबई, 9 सितंबर: बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत से खार खाई उद्धव ठाकरे सरकार को कुछ नहीं मिला तो बीएमसी को आदेश देकर कंगना का दफ्तर ही ढहा दिया। कंगना के मुंबई को लेकर दिए गए बयान की वजह से उनके और महाराष्ट्र सरकार के बीच तल्खियां बढ़ गई हैं। इसी बीच, कंगना के पाली हिल स्थित दफ्तर पर बीएमसी की जेसीबी चल गई है।

बीएमसी द्वारा कंगना रनौत का ऑफिस तोडने जाने के बाद भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने महाराष्ट्र सरकार को नपुंसक सरकार करार दिया है. भाजपा सांसद ने अपने ट्वीट में लिखा, नपुंसक है महाराष्ट्र सरकार। नपुंसक हैं वो सब जो ऐसे मर्दानगी दिखाते हैं।

आपको बता दें कि उद्धव सरकार के आदेश के बाद बीएमसी अधिकारियों द्वारा अभिनेत्री का दफ्तर तोड़ा जा रहा है। दूसरी तरफ, कंगना के वकील ने बीएमसी की कार्रवाई के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर की है।

दफ्तर तोड़े जाने को लेकर कंगना ने कहा कि मणिकर्णिका फ़िल्म्ज़ में पहली फ़िल्म अयोध्या की घोषणा हुई, यह मेरे लिए एक इमारत नहीं राम मंदिर ही है, आज वहाँ बाबर आया है, आज इतिहास फिर खुद को दोहराएगा राम मंदिर फिर टूटेगा मगर याद रख बाबर यह मंदिर फिर बनेगा यह मंदिर फिर बनेगा, जय श्री राम , जय श्री राम , जय श्री राम