फ्लॉप हुआ कांग्रेस का प्लान, ‘भारत बंद’ करवाने गये काँग्रेसियों को किसानों ने डपटकर भगाया

किसान बिल के विरोध में कांग्रेस समेत कई विपक्षी पार्टियों ने आज ( 25 सितंबर, 2020 ) को भारत बंद बुलाया था, कांग्रेस ने दावा किया था कि किसान बिल के विरोध में किसान सड़कों पर उतरेंगें, मोदी सरकार के खिलाफ हल्ला-बोल करेंगें। हालाँकि कांग्रेस ने सभी दावे न सिर्फ हवा-हवाई साबित हुए बल्कि पूरा प्लॉन ही फ्लॉप हो गया, जी हाँ।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को छोड़कर कोई भी व्यक्ति/किसान कृषि कानून के विरोध में सड़क पर नहीं उतरा, पूरे देश के किसी एक भी शहर या गांव में कहीं कुछ भी बंद नहीं हुआ। यहां तक कि कांग्रेस शाषित राज्यों में भी कहीं कोई बंद नहीं हुआ।

खबर है कि बिहार और मध्यप्रदेश में भारत बंद करवाने आये कॉंग्रेसियों को किसानों ने डपटकर भगाया और चेतावनी दी कि किसान कानून हमारे हक में है अपनी राजनीतिक रोटी सेंकने के लिए किसानों को बरगलाना बंद कर दो.

आपको बता दें कि लगभग सभी किसान बाजार और मंडियों में रोज की तरह सामान्य काम हुआ। शहरों में भी बाजारों और मार्किटों में बंद का कहीं आंशिक प्रभाव भी नजर नहीं आया। किसानों ने विपक्ष की घटिया राजनीति से खुद को अलग कर लिया हैं। यहां तक कि मीडिया ने जहां भी किसानों से बात की सबने मोदी सरकार के तीनों बिल का स्वागत किया। इस तरह से किसानों के नाम पर राजनितिक रोटियां सेंकने निकली कांग्रेस समेत विपक्ष को औंधे मुंह गिरना पड़ा.

loading...