अनंतनाग में फटा आतंकियों का ग्रेनेड, 4 पत्थरबाज घायल, सेना के रोकने के बावजूद मुठभेड़ स्थल पर गए थे

अनंतनाग, 25 सितंबर: जम्मू के कश्मीर के अनंतनाग में कुछ कश्मीरी पत्थरबाज शुक्रवार को आतंकियों के ग्रेनेड का शिकार हो गए, अगर इन पत्थरबाजों ने भारतीय सेना की बात मानी होती तो शायद ये सुरक्षित होते। दरअसल शुक्रवार को कश्मीर में अनंतनाग जिले के श्रीहामा इलाके में शुक्रवार को मुठभेड़ के दौरान लश्कर के दो आतंकी मारे गए। उनके मारे जाने के बाद मौके पर मानव के वेश में छिपे पत्थरबाजों की भीड़ लग गई।

सुरक्षाकर्मियों ने पत्थरबाजों को मुठभेड़ स्थल की तरफ नहीं जाने के लिए कहा था, सुरक्षाकर्मियों ने पत्थरबाजों को समझाते हुए कहा कि अभी इलाके को पूरी तरह से सर्च नहीं किया गया है, इसलिए मुठभेड़ स्‍थल पर जाना खतरे से खाली नहीं है. लेकिन ये नहीं माने और चले गए, इसी बीच एक धमाका हुआ जिसकी चपेट में आकर चार पत्थरबाज गंभीर रूप से घायल हो गए। इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। दो की हालत गंभीर बनी हुई है।

धमाके में घायल होने वाले पत्थरबाजों की पहचान मोहम्मद यासीन राथर, शाहिद यूसफ, इरफान अहमद और मुदस्सर अहमद के रूप में हुई है। माना जा रहा है कि मुठभेड़ के दौरान आतंकियों का एक ग्रेनेड इलाके में ही रह गया। जब पत्थरबाज जमा हुए तो किसी ने उसे पकड़ लिया और वह फट गया।

आपको बता दें कि सुरक्षाकर्मियों की तरफ से हर बार मुठभेड़ स्थल पर लोगों को ना जाने की हिदायत दी जाती है, इसके पीछे कारण यह है कि मुठभेड़ के बाद पुलिस और सेना पूरे इलाके को सर्च करती है ताकि कोई विस्‍फोटक रह ना जाए। लेकिन फिर भी लोग मौके पर जमा हो जाते हैं।

loading...