इजराइल और UAE के बीच हुआ ऐतिहासिक समझौता, डॉनल्ड ट्रम्प ने निभाई अहम भूमिका, जानें इसके मतलब

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प ने लम्बे समय से चली आ रही इजराइल और संयुक्त अरब अमीरात ( UAE ) की दुश्मनी को खत्म करवा के दोस्ती में तब्दील करवा दी है, डोनाल्ड ट्रंप की पहल पर इजरायल और UAE के बीच ऐतिहासिक समझौता हुआ है।

इजरायल और यूएई ने सालों से चली आ रही दुश्मनी को भुलाकर ऐतिहासिक शांति समझौते पर दस्तखत किया है। इस डील को मुकाम तक पहुंचाने में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इस समझौते के बाद यूएई और इजरायल के बीच राजनयिक संबंधो की नई शुरुआत भी होगी।

यूएई में इजरायल का दूतावास खुलेगा, साथ ही यूएई भी इजरायल में अपना दूतावास खोलेगा। डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा साझा किए गए संयुक्त बयान के अनुसार, इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू और आबू धाबी के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन जाएद दोनों देशों के बीच संबंधों को सामान्य करने को लेकर राजी हो गए हैं।

बयान में कहा गया है कि ये कदम मीडिल ईस्ट में शांति स्थापित करेगा। दोनों देशों के डेलीगेशन द्विपक्षीय समझौतों को लेकर आने वाले समय में बैठकें करेंगे। इन बैठकों में व्यापार, निवेश, टूरिज्म, फ्लाइट्स, सुरक्षा, टेलिकम्यूनिकेशन, हेल्थकेयर सहित कई क्षेत्रों पर बातचीत होगी।

बताया गया कि इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू, अबुधाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद और डोनाल्ड ट्रंप के बीच गुरुवार को फोन पर हुई चर्चा के बाद इस समझौते की मंजूरी दी गई है। दोनों देशों के बीच हुए समझौते के बाद इजरायल वेस्ट बैंक इलाके में कब्जे की कार्रवाई पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाएगा। अमेरिका ने कहा है कि यह ऐतिहासिक कूटनीतिक सफलता मध्य पूर्व क्षेत्र में शांति को आगे बढ़ाएगी।

loading...