मुस्लिमों ने जला डाला कांग्रेस MLA का घर, फिर भी नहीं उतरा शशि थरूर के सर से सेकुलरिज्म का भूत!

बेंगलुरु, 12 अगस्त: कर्नाटक के बेंगलुरु में मंगलवार ( 11 अगस्त, 2020 ) देर रात दंगे और आगजनी का भीषण नज़ारा देखने को मिला। 1000 से भी अधिक की मुस्लिम भीड़ ने स्थानीय विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के घर को घेर लिया और तोड़फोड़ शुरू कर दी। उनका आरोप था कि विधायक के रिश्तेदार ने पैगम्बर मुहम्मद को लेकर फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट किया है।

एक हज़ार से ज्यादा की संख्या में मुसलमान इकट्ठे हो गए और कॉन्ग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के रिश्तेदार नवीन की गिरफ्तारी की माँग करने लगे। इसके बाद उन्होंने विरोध प्रदर्शन और नारेबाजी शुरू कर दी। इसी तरह विधायक के आवास के बाहर भी विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया। उनके घर के बाहर गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया। कई घण्टों तक आगजनी चली। मुस्लिमों द्वारा कांग्रेस विधायक के घर आगजनी करनें के बावजूद अभी भी कांग्रेस नेता शशि थरूर के सर पर सेकुलरिज्म का भूत सवार है।

दरअसल मुस्लिमों ने ही पहले कांग्रेस विधायक के घर हमला किया फिर उसके बाद खुद को सही साबित करने के लिए कुछ मुस्लिम लोग ही एक मंदिर के सामनें ह्यूमन चेन बनाकर खड़े हो गए, ताकि कोई मुस्लिम मंदिर को नुकसान न पहुंचा सके, ऐसा करके हिन्दू-मुस्लिम एकता की मिशाल पेश कर रहे थे बस 9 सेकण्ड का वीडियो बनवाकर सब भाग गए और फिर हमला करनें में जुट गए, ये वीडियो शशि थरूर को इतना पसंद गया कि वो ये भी भूल गए कि इन्हीं उपद्रवियों में कुछ ने ने कांग्रेस पार्टी के विधायक के घर पर हमला किया था, खुद देखिये शशि थरूर का ट्वीट कैसे दंगाइयों का बचाव कर रहे हैं।

आपको बता दें कि शांतप्रिय समुदाय के उपद्रवियों ने डीजे हल्ली पुलिस स्टेशन पर हमला बोल दिया, इस हमले में कम से कम 2 लोगों की मौत हो गई जबकि 60 पुलिसकर्मीं घायल हैं, पुलिस ने 110 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया है, शहर में केजी हल्ली पुलिस स्टेशन के आस-पास धारा 144 लगा दी गई है।

loading...