अयोध्या में शुरू हुआ राममंदिर निर्माण, 40 महीने में पूरा होगा निर्माण कार्य, लोहे का प्रयोग नही होगा

अयोध्या, 20 अगस्त: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का कार्य आरंभ हो गया है, 35-40 महीनें में निर्माण कार्य पूरा होने का अनुमान है, ये जानकारी ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट’ ने ट्वीट करके दी है। मालूम होगा कि 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में भूमिपूजन किया था।

‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के मुताबिक, श्री राम जन्मभूमि मन्दिर के निर्माण हेतु कार्य प्रारंभ हो गया है। CBRI रुड़की और IIT मद्रास के साथ मिलकर निर्माणकर्ता कम्पनी L&T के अभियंता भूमि की मृदा के परीक्षण के कार्य में लगे हुए है। मन्दिर निर्माण के कार्य में लगभग 36-40 महीने का समय लगने का अनुमान है।

ट्रस्ट ने बताया कि श्री रामजन्मभूमि मन्दिर का निर्माण भारत की प्राचीन निर्माण पद्धति से किया जा रहा है ताकि वह सहस्त्रों वर्षों तक न केवल खड़ा रहे, अपितु भूकम्प, झंझावात अथवा अन्य किसी प्रकार की आपदा में भी उसे किसी प्रकार की क्षति न हो। मन्दिर के निर्माण में लोहे का प्रयोग नही किया जाएगा।

इससे पहले ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय ने कहा था कि मंदिर के लिए जिस उच्च तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा, उससे ये मंदिर 1000 साल तक आँधी तूफान सहने के बाद भी पूरी तरह सुरक्षित होगा। जिस तरह नदियों का पुल बनता है, उसी तरह नींव के पिलर खड़े होंगे।

loading...