पालघर पर चुप रहनें वाली प्रियंका ने कफील खान की रिहाई के लिए योगी को लिखा पत्र, लोगों ने उठाये सवाल

बीते अप्रैल महीनें में महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं की पीट-पीटकर की गई निर्मम ह्त्या पर खामोश रहनें वाली कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने डॉ कफील खान की रिहाई के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है, साधुओं की ह्त्या पर खामोश और डॉ कफील खान के प्रति प्रियंका गांधी वाड्रा की दरियादिली देखकर लोग सवाल उठा रहे हैं।

सोशल मीडिया पर कहा जा रहा है कि प्रियंका गांधी जी आपनें पालघर हत्याकांड के पीड़ित साधुओं को न्याय दिलाने एक शब्द तक नही बोला, और न ही उद्धव ठाकरे सरकार को पत्र लिखा जबकि जो डॉ कफील खान मासूम बच्चों की मौत का जिम्मेदार हो और CAA के खिलाफ भड़काऊ भाषण देनें का आरोप हो उसे रिहा करानें के लिए आप पत्र लिख रही हैं।

सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल ने ट्वीट कर कहा कि महाराष्ट्र के पालघर में हुई निर्दोष संतों की निर्मम हत्या पर
प्रियंका गांधी वाड्रा नें कोई संवेदना नहीं दिखाई पर रासुका के आरोपी और मासूम बच्चों की मृत्यु के जिम्मेदार कफील खान को रिहा करवाने में इतनी रुचि दिखा रही है। इसे कहते हैं दोगली राजनीति!

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरूवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर कहा कि मुख्‍यमंत्री महोदय, इस पत्र के माध्‍यम से डॉक्‍टर कफील खान का मामला आपके संज्ञान में लाना चाहती हूं. ये अब तक लगभग 450 से ज्‍यादा दिन जेल में गुजार चुके हैं. डॉ कफील ने कठिन परिसिथतियों में निस्‍वार्थ भाव से लोगों से लोगों की सेवा की है।

प्रियंका ने अपने लेटर में आगे लिखा-मुझे उम्‍मीद है क आप संवेदनशीलता का परिचय देते हुए डॉ. कफील को न्‍याय दिलवाने का पूरा प्रयास करेंगे. मुझे अशा है कि गुरु गोरखनाथ जी की यह सही आपको मेरे इस निवेदन को मानने के लिए प्रेरित करेगी।

ज्ञात की कि बीते अप्रैल महीनें में महाराष्ट्र के पालघर में सैकड़ों की भीड़ ने पुलिस के सामनें पीट-पीटकर दो संतों को मौत के घाट उतार दिया था, इस मामलें पर प्रियंका गांधी वाड्रा ने पत्र लिखनें की तो दूर, एक ट्वीट तक नहीं किया था।

बता दें कि डॉ कफील खान पर पिछले साल 12 दिसंबर को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान भड़काऊ भाषण देने का आरोप है। उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (यूपी एसटीएफ) ने कफील को जनवरी में मुंबई से गिरफ्तार किया था। कफील खान पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून ( NSA ) लगा हुआ है। डॉ कफील खान इस समय मथुरा जेल में बंद हैं।

loading...