बेंगलुरु हिंसा: कर्नाटक के गृहमंत्री का ऐलान, दंगाइयों की संपत्ति जब्त कर की जाएगी नुकसान की भरपाई

बेंगलुरु, 12 अगस्त: कर्नाटक के बेंगलुरु में मंगलवार ( 11 अगस्त, 2020 ) देर रात दंगे और आगजनी का भीषण नज़ारा देखने को मिला। 1000 से भी अधिक की मुस्लिम भीड़ ने दलित समाज से ताल्लुक रखनें वाले स्थानीय विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के घर को घेर लिया और तोड़फोड़ शुरू कर दी। उनका आरोप था कि विधायक के रिश्तेदार ने पैगम्बर मुहम्मद को लेकर फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट किया है।

बेंगलुरु में हजारों मुस्लिमों द्वारा की गई इस हिंसा के बाद कर्नाटक के गृहमंत्री व् भाजपा नेता बसवराज बोम्मई ने ऐलान किया है कि दंगाइयों की संपत्ति जब्त करके नुकसान की भरपाई की जायेगी। गृहमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार बेंगलुरु हिंसा की घटना में शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी।

मीडिया से बात करते हुए कर्नाटक के गृह मंत्री ने कहा, “मैं संपत्ति की वसूली को लेकर एक महत्वपूर्ण घोषणा करना चाहता हूँ कि सर्वोच्च न्यायालय का कहना है कि हिंसा के दौरान क्षतिग्रस्त हुई सार्वजनिक संपत्ति की भरपाई उन व्यक्तियों द्वारा किया जाना चाहिए जिन्होंने नुकसान पहुँचाया है। हम तुरंत कार्रवाई करने जा रहे हैं। हम व्यक्तियों की पहचान कर रहे हैं और नुकसान का आकलन कर रहे हैं। इसके बाद दंगाइयों द्वारा नुकसान की वसूली की जाएगी। उन्होनें कहा कि इस सम्बन्ध में मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक बुलाई है, जहाँ आगजनी में लिप्त लोगों से नुकसान की वसूली के बारे में अंतिम निर्णय लिया जाएगा।

आपको बता दें कि बेंगलुरु साउथ के भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या ने मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा को पत्र लिखकर अपील की थी कि जैसे उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने सार्वजानिक सम्पत्ति को नुकसान पहुंचानें वाले दंगाइयों की सम्पत्ति जब्त की थी, ठीक वैसे बंगलुरु में सम्पत्ति को नुकसान पहुंचानें वालों की सम्पत्ति जब्त की जाय ताकि नुकसान की भरपाई की जा सके.

बता दें कि इससे पहले बेंगलुरु दक्षिण के सांसद (बीजेपी) तेजस्वी सूर्या ने इस बाबत कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा को पत्र लिखा था। पत्र में तेजस्वी सूर्या ने येदियुरप्पा से उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ की तरह दंगे में हुई व्यापक क्षति की भरपाई दंगाइयों की संपत्ति जब्त करके करने का अनुरोध किया था।

आपको बता दें कि एक फेसबुक पोस्ट को लेकर बीती रात एक हज़ार से ज्यादा की संख्या में मुसलमान इकट्ठे हो गए और दलित कॉन्ग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के रिश्तेदार नवीन की गिरफ्तारी की माँग करने लगे। इसके बाद उन्होंने विरोध प्रदर्शन और माजभी नारेबाजी शुरू कर दी। विधायक के आवास पर बाहर आग लगा दिया, घर के बाहर गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया। इसके बाद पुलिस स्टेशन भी फूंक दिया था, SDPI नेता मुजम्मिल पाशा गिरफ्तार हुआ है, जो घटना का मास्टरमाइंड बताया जा रहा है।

loading...