कपिल सिब्बल का छलका दर्द, 30 साल तक मैंने कांग्रेस की सेवा की, राहुल गाँधी ने मुझे BJP का एजेंट बता दिया!

कांग्रेस के 23 वरिष्ठ नेताओं ने जबसे चिट्ठी लिखकर सोनिया गांधी के अध्यक्ष पद छोड़ने की मांग की है तबसे कांग्रेस पार्टी में घमासान मच गया है, चिट्ठी से गुस्साए राहुल गाँधी ने तीखे तेवरों में चिट्ठी लिखने वालों को बीजेपी का एजेंट बता दिया, इसकी जानकारी खुद कांग्रेस के दिग्गज नेता कपिल सिब्बल ने ट्वीट करके दी. बता दें कि चिट्ठी लिखने वाले 23 कांग्रेसी नेताओं में कपिल सिब्बल भी एक थे।

राहुल गांधी द्वारा ‘बीजेपी संग मिलीभगत’ का आरोप लगाने के बाद कपिल सिब्‍बल का दर्द छलक उठा, सिब्बल ने अपने ट्वीट में लिखा, “राजस्‍थान हाई कोर्ट में कांग्रेस पार्टी को सफलतापूर्वक डिफेंड किया। मणिपुर में बीजेपी सरकार गिराने में पार्टी का बचाव किया। पिछले 30 साल में किसी मुद्दे पर बीजेपी के पक्ष में कोई बयान नहीं दिया। लेकिन फिर भी हम ‘बीजेपी के साथ मिलीभगत कर रहे हैं।

कपिल सिब्बल के ट्वीट के बाद ये साफ़ हो है कि कोई गांधी परिवार के करीबी होने का चाहे जितने दावा करे, अगर राहुल गांधी भड़कते हैं तो किसी को नहीं छोड़ते। ये तो कपिल सिब्बल ने ट्वीट करके खुलासा कर दिया वरना कुछ नेता तो ऐसी बातों को सार्वजनिक करते ही नहीं हैं।