69 साल में 102 करोड़ की बढ़ोतरी: गिरिराज सिंह ने कहा- जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू करना बहुत जरुरी

नई दिल्ली, 21 अगस्त: जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक बार फिर से आवाज बुलंद की है, गिरिराज सिंह का कहना है कि जनसंख्या विस्फोट का दबाव भारत बर्दाश्त नहीं कर सकता। कोई भी योजना इस विस्फोट के सामने टिक नहीं सकती.. इसलिए जनसंख्या नियंत्रण कानून बहुत महत्वपूर्ण है।

वरिष्ठ भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने ट्विटर पर एक आंकड़ा शेयर किया है, जिसके मुताबिक़, 1951 में भारत की जनसंख्या 36 करोड़ थी जो अब बढ़कर 138 करोड़ हो गई है यानि कि 69 साल में 100 करोड़ से ज्यादा यानि की 102 बढ़ोतरी हुई।

गिरिराज सिंह ने अपनें ट्वीट में लिखा, 1951 में जनसंख्या 36 करोड़ थी जो अब बढ़कर 138 करोड़ हो गई है..पिछले साल यह आंकड़ा 136 करोड़ था। जनसंख्या विस्फोट का यह दबाव भारत बर्दाश्त नहीं कर सकता। कोई भी योजना इस विस्फोट के सामने टिक नहीं सकती..इसलिए जनसंख्या नियंत्रण कानून बहुत महत्वपूर्ण है।

आपको बता दें कि देश में गोली की रफ़्तार से बढ़ रही जनसंख्या पर लगाम लगाने के लिए केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह लम्बे समय से आवाज उठाते आये हैं, इसके लिए उन्होनें पिछले साल यूपी के मेरठ से दिल्ली तक तीन दिवसीय पदयात्रा भी की थी।

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का मानना है कि “हिंदुस्तान में जनसंख्या विस्फोट अर्थव्यवस्था, सामाजिक समरसता और संसाधन का संतुलन बिगाड़ रहा है। जनसंख्या नियंत्रण पर धार्मिक व्यवधान भी एक कारण है। हिंदुस्तान 1947 की तर्ज़ पर सांस्कृतिक विभाजन की ओर बढ़ रहा है। सभी राजनीतिक दलों को साथ होकर जनसंख्या नियंत्रण क़ानून के लिए आगे आना होगा।