धमकीबाज मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर दर्ज होना चाहिए FIR, कवि कमल आग्नेय ने शुरू किया कैम्पेन

बुधवार ( 5 अगस्त 2020 ) को यानि आज अयोध्या में राम मंदिर भूमिपूजन कार्यक्रम संपन्न हुआ, भूमिपूजन से पहले बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे मुस्लिम संगठन ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने खुली धमकी दी, मुस्लिम लॉ बोर्ड का कहना है कि मुस्लिम मायूस न हों, मौका मिलते ही दुबारा हटा देंगे अयोध्या से राम मंदिर, वहां बाबरी मस्जिद थी, है और रहेगी।

ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के इस धमकी भरे बयान की निंदा हो रही है तो वहीँ कवि कमल आग्नेय ने कहा है कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर एफआईआर दर्ज होना चाहिए, इसके लिए कवि ने ट्विटर पर हैशटैग #FIRagainstAIMPLB भी शुरू कर दिया है।

अपनी कविताओं से कवि जगत में तहलका मचानें वाले युवा कवि कमल आग्नेय ने अपनें ट्वीट में लिखा, ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर तत्काल FIR होनी चाहिये, क्योंकि इन्होनें देश की व्यवस्था को खुली धमकी है ये, साथ में कमल आग्नेय ने लोगों से #FIRagainstAIMPLB ट्रेंड पर ट्वीट करने की अपील भी की है।

बता दें कि ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया, ‘बाबरी मस्जिद थी और हमेशा मस्जिद ही रहेगी। हागिया सोफिया इसका एक बड़ा उदाहरण है, अन्यायपूर्ण, दमनकारी, शर्मनाक और बहुसंख्यक तुष्टिकरण निर्णय द्वारा जमीन पर पुनर्निमाण इसे बदल नहीं सकता है। दुखी होने की जरूरत नहीं है. कोई स्थिति हमेशा के लिए नहीं रहती है।

इस धमकी के बाद साफ हैं कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ना केवल राम मंदिर को हटाने की धमकी दे रहा हैं बल्कि सुप्रीम कोर्ट के खिलाफ एक नफरत का माहौल बनाने की तैयारी कर रहा हैं। क्यूंकि सुप्रीम कोर्ट के फैंसले के बाद ही अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण हो रहा है।

loading...