संजय झा का खुलासा, सोनिया गांधी को नहीं पसंद करते कांग्रेसी नेता, लीडरशिप से पाना चाहते हैं मुक्ति

हाल में कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पद और पार्टी से सस्पेंड किये गए पूर्व कांग्रेसी नेता संजय झा ने बड़ा खुलासा किया है, जी हाँ! संजय झा के खुलासे कांग्रेस में खलबली मच गई है। आलाकामन से लेकर छोटे-मोटे नेताओं की नींद उड़ गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, संजय झा ने दावा किया है ज्यादातर कांग्रेसी नेता सोनिया गांधी को पसंद नहीं करते हैं, दबाव में काम कर रहे हैं, कांग्रेस के करीब 100 नेताओं ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को नेतृत्व बदलने के लिए चिट्ठी लिखी है। संजय झा के इस दावे के बाद कांग्रेस ने खंडन किया है।

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, फेसबुक-भाजपा लिंक से ध्यान हटाने के लिए ऐसे दावे किए जा रहे हैं। बताते चलें कि सुरजेवाला जैसे नेता सोनिया गांधी राहुल गांधी को अपना सबकुछ मानते हैं, सुरजेवाला ने कहा कि ऐसा कोई पत्र असलियत में है ही नहीं। उन्होंने कहा, भाजपा के नेताओं की तरफ से इस पर बयानबाजी भी शुरू हो गई है।

संजय झा के के दावे के बाद कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत का कहना है कि भाजपा के इशारे पर बेबुनियाद बयानबाजी की जा रही है, पार्टी में आंतरिक लोकतंत्र बरकरार है।

संजय झा ने दावा किया कि चिट्ठी लिखने वालों में कांग्रेस पार्टी के सांसद भी शामिल हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘करीब 100 कांग्रेस नेता (सांसद समेत) पार्टी में मामलों की दशा से व्यथित हैं। इन नेताओं ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें राजनीतिक नेतृत्व में बदलाव और कांग्रेस वर्किंग कमेटी (सीडब्ल्यूसी) में पारदर्शी चुनाव की मांग की गई है।

आपको बता दें कि पिछले महीने कांग्रेस पार्टी ने तत्काल प्रभाव से संजय झा को सस्पेंड कर दिया, संजय झा को कांग्रेस ने इससे पहले प्रवक्ता पद से हटाया था, संजय झा पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होनें और अनुसाशनहीनता का आरोप है।