बड़ा खुलासा: नेपाल की जमीन पर चीन कर रहा कब्जा, वामपंथी PM केपी ओली कर रहे हैं मदद

काठमांडू, 22 अगस्त: हमेशा से कहा जाता है कि वामपंथी देशभक्त नहीं हो सकता है, इस कथन को अब नेपाल के वामपंथी प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली सही साबित कर रहे हैं।

दरअसल इस समय चीन नेपाल की जमीन पर कब्जा कर रहा है और इस काम में चीन की मदद कोई और नहीं बल्कि खुद नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली कर रहे हैं, नेपाल की जमीन को चीन धीरे-धीरे अपने कब्जे में ले रहा हैं जबकि ओली इसे अनदेखा कर रहे हैं। नेपाल के सर्वे डिपार्टमेंट ऑफ अग्रीकल्चर मिनिस्ट्री की रिपोर्ट के मुताबिक चीन ने सात सीमावर्ती जिलों में कई जगहों पर नेपाल की डमीन पर कब्जा कर रखा है और वह तेजी से आगे बढ़ रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुतबिक, नेपाल की कम्युनिस्ट पार्टी (NCP) चीन की कम्युनिस्ट पार्टी (CCP) को बचाने की कोशिश कर रही है। चीन ने नेपाल के इलाकों में सड़कें बनाई हैं और नेपाल की जमीन पर कब्जा करते हुए आगे बढ़ रहा है। CCP नाराज न हो जाए, इस डर से ओली सरकार ने चुप्पी साध रखी है। यही नहीं, देश के विदेश मंत्री प्रदीप ग्यवली ये कह चुके हैं कि नेपाल का सीमा विवाद चीन नहीं, भारत के साथ है।

इसी साल जून में विपक्ष की नेपाली कांग्रेस ने नेपाली संसद के निचले सदन में रेजॉलूशन पेश किया था जिसमें ओली सरकार से चीन की छीनी हुई जमीन वापस लेने के लिए कहा गया था। रोप लगाया था कि चीन ने दोलका, हुमला, सिंधुपालचौक, संखूवसाभा, गोरखा और रसूवा जिलों में 64 हेक्टेयर जमीन पर अतिक्रमण कर रखा है। आपको बता दें कि नेपाल में गोरखा के रुई गाँव में चीन ने कब्जा कर लिया है, इसका खुलासा करने वाले पत्रकार बलराम बनिया का संदिग्ध परिस्थतियों में शव मिला।