दिशा-सुशांत मर्डर केस में बेबी पेंग्विन को बचाने के लिए हो रहा तमाम तिकड़म

नई दिल्ली: पिछले कुछ दिनों के घटनाक्रम को देखकर ये तो साफ़ हो गया है कि मुंबई पुलिस किसी भी कीमत पर ना तो दोनों मामलों की जांच  ना खुद करेगी, ना बिहार पुलिस को करने देगी और ना ही यह केस CBI के हाथों में देना चाहती है, अब लोग सोच रहे हैं कि आखिर मुंबई पुलिस किसको बचाने के लिए ये सब तिकड़म कर रही है।

आज ट्विटर पर कहा जा रहा है कि बेबी पेंग्विन को बचाने के लिए ये सब तिकड़म किया जा रहा है। अब लोग सोचेंगे कि ये बेबी पेंग्विन कौन है। ट्विटर पर जिस नेता को बेबी पेंग्विन बताया जा रहा है वह नेता युवा नेता है, राज्य में मंत्री भी है और एक बड़े नेता का बेटा भी है. फिलहाल अभी टीवी चैनल पर उस नेता का नाम नहीं लिया जा रहा है। हम भी एक जिम्मेदार ऑथर होने के नाते उसका नाम नहीं लिख रहे हैं।

baby-pengwin-involved-in-sushant-rajput-disha-saliyan-murder-case

सुशांत का मर्डर किये जाने का क्यों हो रहा शक

सुशांत राजपूत की हत्या की गयी थी अब ये शक यकीन में बदलता जा रहा है, सुशांत राजपूत की मौत से पहले उनकी पूर्व मैनेजर दिशा साल्यान की भी संदेहास्पद परिस्थितियों में मौत हो गयी थी, उनकी मौत के बाद यह अफवाह फैला दी गयी कि एक पार्टी में उनका पैर फिसल गया और वह 14वें फ्लोर से नीचे गिर गयीं और उनकी मौत हो गयी।

मीडिया को मैनेज करके यह खबर वायरल कर दी गयी और लोगों ने इसपर यकीन भी कर लिया लेकिन उसके 5 दिन बाद ही सुशांत सिंह राजपूत का शव उनके ही घर में पंखे से लटका मिला, उनकी मौत के तुरंत बाद मीडिया ने यह अफवाह फैला दी कि सुशांत सिंह राजपूत ने पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली है। शुरुआत में लोग दिशा और सुशांत की मौत का लिंक नहीं समझ रहे थे इसलिए लोगों ने यकीन कर लिया कि सुशांत राजपूत ने आत्महत्या की होगी। लेकिन अब सच्चाई से धीरे धीरे पर्दा उठ रहा है और लोगों को शक हो रहा है कि दिशा सल्यान और सुशांत राजपूत दोनों का मर्डर किया गया है।

क्यों हो रहा शक

दिशांत साल्यान के बारे में पहले ऐसी अफवाह फैलाई गयी कि उन्होंने आत्महत्या की है लेकिन जब लोगों को पता चला कि पार्टी में उनकी मौत हुई है तो उनकी मौत को एक्सीडेंटल मौत में बदल दिया गया और यह कहा गया कि गलती से उनका पैर फिसल गया और 14वीं मंजिल से गिरकर उनकी मौत हो गयी।

अब लोगो को शक हो रहा है कि कहीं पार्टी में दिशा के साथ कुछ गलत तो नहीं हुआ था, कहीं गलत काम करके उनकी ह्त्या तो नहीं की गयी थी, कहीं दिशा ने इस वारदात के बीच में सुशांत को फोन करके साजिश के बारे में बता तो नहीं दिया था। कहीं सुशांत राजपूत दिशा को न्याय तो नहीं दिलाना चाहते थे जिसकी वजह से साजिशकर्ताओं ने उनकी भी ह्त्या कर दी।

सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल किया जा रहा है जिसमे इस साजिश में महाराष्ट्र के एक बड़े नेता के बेटे का जिक्र है, यह कहा जा रहा है कि वो नेता भी पार्टी में मौजूद था और दिशा को मारने की साजिश में वह नेता भी शामिल है, यह भी कहा जा रहा है कि दिशा का एक बदनाम एक्टर से रिलेशन चल रहा था और दोनों में अनबन हो गयी थी इसलिए पार्टी में उसे बुलाकर ख़त्म कर दिया गया। यह भी कहा जा रहा है कि रिया को भी इस साजिश के बारे में पता चल गया था, वह चाहती थी कि सुशांत इस चक्कर में ना पड़ें, इसीलिए उन्होंने सुशांत का घर छोड़ दिया।

महाराष्ट्र क्यों कर रही CBI जांच से इंकार

सोशल मीडिया पर वायरल मैसेज में यह कहा जा रहा है कि इस साजिश में महाराष्ट्र सरकार का एक बड़ा नेता भी शामिल है इसलिए सरकार सुशांत मर्डर केस की CBI जांच कराने से साफ़ साफ़ इंकार कर रही है, अगर CBI जांच हुई तो दिशा की कॉल डिटेल निकल जाएगी, सुशांत की भी कॉल डिटेल निकल जाएगी, यह भी पता चल जाएगा कि दिशा को पार्टी में किसने बुलाया था और उसने सुशांत को फोन किया था या नहीं, यही नहीं सुशांत और दिशा की कॉल डिटेल भी निकल जाएगी और दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। यह सब चुटकी का खेल है इसलिए महाराष्ट्र सरकार ना तो मुंबई पुलिस को इस केस की जांच करने दे रही है, ना बिहार पुलिस का सहयोग कर रही है और ना ही CBI जाँच करने देना चाहती है।

अब तो इस साजिश का शक और गहरा गया है क्योंकि मुंबई पुलिस ने दिशा केस की फाइल की गुम कर दी है। बिहार पुलिस को दिशा केस की फाइल देने से मना कर दिया गया। मुंबई पुलिस जानती है कि अगर दिशा केस की फाइल खुल गयी तो सभी साजिशकर्ता सलाखों के पीछे पहुँच जाएंगे।

loading...