आज से सील हो जाएंगी अयोध्या की सभी सीमाएं, 45 साल से कम उम्र के सुरक्षाकर्मियों की होगी तैनाती?

अयोध्या, 3 अगस्त: अब से 48 घंटे बाद यानि 5 अगस्त को राम मंदिर का भूमिपूजन होना है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी भूमिपूजन में शामिल होंगें उससे पहले आज से अयोध्या अभेद्य किले में तब्दील हो गया, सभी सीमाएं सील कर दी गई है। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाबलों की तैनाती कर दी गई है, ख़ास बात यह है कि 45 साल से कम उम्र के सुरक्षाकर्मियों की ही तैनाती की गई है।

सुरक्षा के मद्देनजर चार और पांच अगस्त को अयोध्या की सुरक्षा में 3500 पुलिसकर्मी, 40 कंपनी पीएसी, 10 कंपनी आरएएफ, दो डीआईजी व 8 पुलिस अधीक्षक तैनात रहेंगे। सुरक्षा की कमान एडीजी लॉ एन्ड आर्डर सम्भालेंगें, कोरोना के चलते काफी सावधानी भी बरती जा रही है।

अयोध्या की तैयारियों को परखने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी आज यानि 3 अगस्त को अयोध्या का दौरा करेंगे, जहां वह व्यवस्थाओं का निरीक्षण करेंगे।

अयोध्या में 5 अगस्त को राम मंदिर का भूमिपूजन ही नहीं होगा बल्कि सौहार्द मंच भी सजेगा. भूमिपूजन के लिए सुन्नी वक्फ बोर्ड को न्योता भेजा गया है. राम मंदिर भूमिपूजन कार्यक्रम में सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष जफर फारूखी, अयोध्या के समाजसेवी पद्मश्री मोहम्मद शरीफ, बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी आमंत्रित लोगों की सूची में शामिल हैं।

भूमिपूजन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, सीएम योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास मौजूद रहेंगें।

loading...