राममंदिर भूमिपूजन कर मोदी ने बहुत गलत किया, ये हिंदुत्व की जीत और सेकुलरिज्म की हार है: ओवैसी

अयोध्या में आज बुधवार ( 5 अगस्त 2020 ) को भूमिपूजन का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ, पीएम नरेंद्र मोदी ने आज अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की नींव रखी। असदुद्दीन ओवैसी ने इसे सेकुलरिज्म और लोकतंत्र की हार करार दिया है और हिंदुत्व की जीत.

हैदराबाद के सांसद और AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राममंदिर की आधारशिला रखकर कार्यालय की शपथ का उल्लंघन किया है। ओवैसी ने आगे कि राम मंदिर का भूमिपूजन होना मतलब यह लोकतंत्र और धर्मनिरपेक्षता ( सेकुलरिज्म ) की हार और हिंदुत्व की सफलता का दिन है, बता दें कि भूमिपूजन से पहले असदुद्दीन ओवैसी ने नफरती ट्वीट करते हुए कहा था कि बाबरी मस्जिद है, थी और रहेगी, इंशाल्लाह!

आपको बता दें कि आज ( 5 अगस्त, 2020 ) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में राममंदिर का भूमिपूजन किया और आधारशिला रखी, अब राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा। इसके बाद पीएम मोदी ने कहा कि मुझे विश्वास है कि श्रीराम के नाम की तरह ही अयोध्या में बनने वाला ये भव्य राममंदिर भारतीय संस्कृति की समृद्ध विरासत का द्योतक होगा। यहां निर्मित होने वाला राममंदिर अनंतकाल तक पूरी मानवता को प्रेरणा देगा।

loading...