योगी सरकार का एक्शन शुरू: सलीम समेत मुख़्तार अंसारी के 3 गुर्गों पर हुई कड़ी कार्यवाही?

कानपुर में हुई जघन्य वारदात के बाद अब योगी सरकार ने एक बार फिर से अपराधियों पर एक्शन लेना शुरू कर दिया है, योगी सरकार के रडार पर 33 आपराधिक गैंग है, शुरुवात दुर्दांत अपराधी मुख़्तार अंसारी के गैंग से हुई है, यूपी पुलिस ने बड़ी कार्यवाही करते हुए सलीम और उसके गुर्गे राजेश गुल्ली व् आनंद मसीह पर शुक्रवार को गैंगस्टर एक्ट लगा दिया। ये तीनों दुर्दांत अपराधी मुख़्तार अंसारी के गुर्गे हैं।

पंजाब जेल में बंद मुख़्तार अंसारी की पार्टी कौमी एकता दल से सलीम 2012 में वाराणसी कैंट विधानसभा से चुनाव भी लड़ चुका है। इसके साथ ही वह मुख्तार अंसारी के तीन बड़े मुकदमों में जमानतदार भी है।

इससे पहले योगी सरकार ने मुख्तार मुख्तार के गैंग पर नकेल कसते हुए यूपी पुलिस ने दुर्दांत अपराधी श्री प्रकाश मिश्रा उर्फ झुन्ना पंडित की 60 लाख की सम्पत्ति कुर्क कर दी।

उत्तर प्रदेश और दिल्ली में 10 हत्याओं में वांछित कुख्यात गैंगस्टर श्री प्रकाश मिश्रा उर्फ झुन्ना पंडित को एक साल पहले पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था। झुन्ना पर यूपी पुलिस ने एक लाख रुपये का इनाम रखा था। अब योगी सरकार फुल एक्शन में है, अपराधियों का अब जीना मुहाल हो रहा है। मुख्तार अंसारी के बाद अपराधी अतीक अहमद का नंबर लग सकता है। 15 दिन पहले यूपी पुलिस ने अतीक अहमद के भाई दुर्दांत अपराधी अशरफ को गिरफ्तार कर बरेली जेल में डाल दिया।