विकास दूबे और उसके गिरफ्तार साथी को छुपाने वाला श्रवण निकला कोरोना पॉजिटिव, पुलिस की बढ़ी टेंशन

vikas-dubey-relatives-shrawan-corona-report-positive-in-faridabad

फरीदाबाद 8 जुलाई: फरीदाबाद पुलिस ने कड़ी मेहनत करके विकास दूबे और उसके गिरफ्तार साथी कार्तिकेय उर्फ़ प्रभात को छुपाने वाले दो आरोपियों श्रवण और उसके बेटे अंकुर को इंदिरा कॉलोनी, नहरपार से गिरफ्तार कर लिया है, दोनों आरोपियों को जेल भी भेज दिया गया है लेकिन श्रवण की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव निकलने से पुलिस की टेंशन बढ़ गयी है.

पुलिस ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि जेल के नियमों का पालन किया जाएगा और श्रवण को क्वारंटाइन किया जाएगा।

पुलिस की टेंशन ये है कि क्राइम ब्रांच की टीम ने श्रवण को गिरफ्तार किया, काफी देर तक उससे पूछताछ भी हुई है, इस दौरान कई पुलिस कर्मी श्रवण के संपर्क में भी आये होंगे। हो सकता है इन पुलिसकर्मियों का भी कोरोना टेस्ट किया जाए, तीनों आरोपियों को आज कोर्ट में पेश किया गया, वहां भी काफी भीड़ भाड़ थी इसलिए कई लोगों पर संक्रमण का खतरा है। यही नहीं स्वयं विकास दूबे को भी कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा है क्योंकि छुपाते वक्त दोनों में संपर्क हो सकता है.

आपको बता दें कि कानपुर के कुख्यात बदमाश विकास दुबे के मुख्य साथी सहित दो अन्य आरोपियों को फरीदाबाद क्राइम ब्रांच ने दबोच लिया है. विकास दुबे के सहयोगी आरोपी कार्तिकेय ने खुद को पुलिस से घिरा देख पुलिस पर फायरिंग की, क्राइम ब्रांच ने चारों तरफ से घेर कर उसे दबोच लिया। मुख्य आरोपी कार्तिकेय उर्फ प्रभात से 4 पिस्टल और 44 जिंदा राउंड बरामद किए.

Sponsored Articles
loading...