सामनें आई विकास दुबे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट, ये थी मौत की वजह

कानपुर, 20 जुलाई: कानपुर बिकरू काण्ड के मुख्य आरोपी विकास दुबे को 10 दिन पहले यूपी एसटीएफ ने एनकाउंटर में मार गिराया था, सोमवार को 8 पुलिसकर्मियों के हत्यारोपी विकास दुबे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामनें आ गई है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक, गोली लगने के बाद ज्यादा खून बहने से विकास दुबे की मौत हो गई, एनकाउंटर में विकास दुबे के शरीर से तीन गोलियां आरपार हो गई थी, इस दुर्दांत अपराधी के शरीर के अलग-अलग हिस्सों में 10 जख्म मिले थे। छह जख्म (इंट्री-एग्जिट) गोलियों के हैं, जबकि अन्य चार जख्म शरीर के दाहिने हिस्से में थे। पहली गोली विकास के दाहिने कंधे और अन्य दो गोलियां बाएं सीने में लगी थीं।

हालांकि, सभी गोलियां सामने ही लगने से यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि विकास ने भागने के दौरान एसटीएफ का मुकाबला किया था। हालाँकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसका जिक्र नहीं है कि गोली कितनी दूर से चलाई गई।

गौरतलब है कि 8 पुलिसकर्मियों के हत्यारोपी विकास दुबे को उज्जैन पुलिस ने महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया था, यूपी एसटीएफ विकास दुबे को उज्जैन से कानपुर ला रही थी तभी कानपुर से 30 किलोमीटर भौंती में रोड पर अचानक पशुओं के आ जानें से गाड़ी पलट गई।

मौके का फायदा उठाकर विकास दुबे ने पुलिस की पिस्टल छीन ली और फायरिंग करके भागनें की कोशिश की, पुलिस सरेंडर करनें को कह रही थी परन्तु विकास दुबे फायरिंग करनें पर अमादा था, इसके बाद आत्मरक्षा में पुलिस ने गोली चलाई और विकास दुबे घायल हो गया, हैलट अस्पताल में मौत हो गई।

loading...