कैसे पलटी गाडी, क्यों और कैसे हुआ विकास दुबे का एनकाउंटर, STF ने बयान जारी कर दी पूरी जानकारी

आठ पुलिसकर्मियों के हत्यारे दुर्दांत अपराधी विकास दुबे का आज सुबह यूपी एसटीएफ-पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया। विकास दुबे का एनकाउंटर उस वक्त हुआ जब एसटीएफ विकास दुबे को उज्जैन से कानपुर ला रही थी। एनकाउंटर कानपुर से ठीक 15 किलोमीटर हुआ. शुरुवाती जानकारी के मुताबिक, एसटीएफ की गाडी पलट गई जिसमें विकास दुबे था, इस दौरान विकास दुबे पुलिस की पिस्टल छीनकर फायरिंग की और भागनें की कोशिश की। इसके बाअद पुलिस ने मार गिराया।

विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद यूपी एसटीएफ पार कई सवाल खड़े होनें लगे थे, हालाँकि अब स्पेशल टॉस्क फ़ोर्स ( एसटीएफ ) ने एक बयान जारी करे पूरी घटनाक्रम की विस्तृत जानकारी दी है।

यूपी एसटीएफ ने जो बयान जारी किया है, उसके मुताबिक, पशुओं का एक झुंड सामने आ गया था, जिसके वजह से गाडी अनियंत्रित होकर पलट गई। इसका फायदा उठाकर विकास भागने लगा, पुलिस ने विकास दुबे को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन वह फायरिंग करता रहा। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में उसकी मौत हो गई। नीचे आप एसटीएफ का पूरा बयान पढ़ सकते हैं।

Image

आपको बता दें कि कानपुर स्थित बिकरु गांव में विकास दुबे को गिरफ्तार करने गई पुलिस टीम पर हुई ताबड़तोड़ फायरिंग में एक सीओ समेत 8 पुलिस वालों की मौत हो गई। इस मामले में यूपी पुलिस ने विकास दुबे समेत कुल 21 अभियुक्त को नामजद किया था। जिसमें से विकास दुबे सहित 4 बदमाशों का एनकाउंटर हो गया है जबकि कई बदमाश गिरफ्तार हो चुके हैं, वारदात में शामिल अन्य अपराधियों को पकडनें के लिए पुलिस और एसटीएफ की टीमें दबिश दे रही हैं.

विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद बिकरू गाँव में ख़ुशी का माहौल है, क्योंकि बिकरू गाँव में विकास दुबे ने जबरदस्त दहशत बनाई थी, कोई इस अपराधी के खिलाफ गवाही देनें को राजी नहीं था, अंततः विकास दुबे का अंत हो गया और बिकरू गाँव के लोगों को भी आजादी मिल गई।

Sponsored Articles
loading...