कानपुर शूटआउट: विकास दुबे के गिरफ्तार साथी ने किया बड़ा खुलासा, इस राज से उठा पर्दा?

कानपुर, 5 जुलाई: गुरूवार ( 2 जुलाई 2020 ) देर रात कानपुर के बिकरू गाँव में हुई आठ पुलिसवालों की ह्त्या के मामलें में यूपी पुलिस ने अब कार्यवाही तेज कर दी है, पुलिस ने बदमाश विकास दुबे के एक साथी दयाशंकर अग्निहोत्री को मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया है, दयाशंकर ने कई चौंकाने वाले खुलासे किये हैं, साथ ही उसनें यह भी क्लियर कर दिया कि दबिश की सूचना विकास दुबे को थानें से ही फोन करके दी गई थी. हो सकता है कि किसी पुलिसवाले ने दी हो. बताते चलें कि इस मामलें में चौबेपुर थाना अध्यक्ष विनय तिवारी को सस्पेंड कर दिया गया है और एसटीएफ हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है, विनय तिवारी पर मुखबिरी का आरोप है।

वारदात में शामिल बदमाश विकास दुबे के साथी दयाशंकर अग्निहोत्री ने पुलिस को कई महत्वपूर्ण जानकारियां दी है, अब पुलिस को विकास तक पहुंचने में मदद मिल सकती है, अग्निहोत्री ने पुलिस को बताया कि दबिश की सूचना थाने से फोन करके विकास दुबे को दी थी, सूचना मिलने के बाद विकास दुबे ने तैयारियां तेज कर दी थी, इसके बाद विकास ने भारी मात्रा में हथियार अपने पास मंगा लिए और कई बदमाश साथियों को भी बुला लिया था। पूरी प्लानिंग के तहत विकास ने पुलिस पर हमला किया।

बता दें कि पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के साथी और वारदात में शामिल बदमाश दयाशंकर अग्निहोत्री को आज तड़के लगभग साढ़े 4 बजे कानपुर नगर के कल्याणपुर के शिवली रोड से जवाहरपुरम को जानें वाली रोड पर पुलिया के पास से गिरफ्तार किया। हालाँकि मुख्य आरोपी विकास दुबे 50 घंटे बीत जानें के बाद भी पुलिस की पकड़ से बाहर है.

कुख्यात हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की गिरफ़्तारी के लिए साठ टीमों में 1500 पुलिस कर्मी लगाए गए हैं। क्राइम ब्रांच की 12 टीमें और एसटीएफ की टीमें जगह-जगह दबिश दे रही हैं, बिकरू के आसपास दो दर्जन गांवों में पुलिस ने तलाशी अभियान चलाया। पुलिस ने विकास दुबे पर इनामी राशि बढ़ाकर 50 हजार से एक लाख कर दिया है।

Sponsored Articles
loading...