सफूरा जरगर के समर्थन में आवाज उठानें वाली स्वाति मालीवाल नूपुर शर्मा मामलें पर चुप क्यों हैं?

नई दिल्ली, 26 जुलाई: कुछ महीनों पहले नागरिकता संसोधन कानून ( CAA ) के विरोध में दंगा भड़काने के आरोप में गिरफ्तार हुई जामिया मिलिया इस्लामिया की छात्रा कथित तौर पर अविवाहित सफूरा जरगर के प्रेग्नेंसी पर लोगों ने सोशल मीडिया पर सवाल खड़े किये थे तो दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल विदक गई थी और कार्यवाही करनें की मांग की थी, अब आप नेता सैय्यद अब्बास ने लाइव डिबेट में भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा को गाली दे दी लेकिन स्वाति मालीवाल चुप्प्पी साधे हैं, कोई ट्वीट भी नहीं की, अब महिला आयोग के अध्यक्ष पद का दायित्व नहीं निभा रही हैं।

सफूरा जरगर के समर्थन में आवाज उठानें वाली दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल ने उस समय कहा था कि सफूरा गर्भवती हैं और जेल में हैं। वो दोषी हैं या उनका क्या सजा होगी। ये अदालत तय करेगी लेकिन जिस तरह से एक गर्भवती महिला के चरित्र पर सवाल किए गए, वो शर्मनाक है। किसी को भी उनका चरित्र हनन करने का अधिकार नहीं है।

अब स्वाति मालीवाल से पूछा जाना चाहिए कि क्या? किसी को लाइव डिबेट में किसी महिला को गाली देनें का अधिकार का है, अगर नहीं है तो स्वाति मालीवाल नूपुर शर्मा के समर्थन में आवाज उठाकर गालीबाज आप नेता सैय्यद अब्बास के खिलाफ कार्यवाही की मांग क्यों नहीं कर रही हैं, अब देखना यह दिलचस्प होगा कि क्या स्वाति मालीवाल अपनें फर्ज पर अडिग रहकर गालीबाज आप नेता के खिलाफ कार्यवाही की मांग करती हैं या मौन धारण करके बैठ जाती हैं।

बता दें कि लाइव डिबेट में आप नेता सैय्यद अब्बास ने बीजेपी प्रवक्ता नूपुर शर्मा को गाली दी थी, रिपब्लिक टीवी की डिबेट में आप नेता ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी भगवान राम का बहुमत प्राप्त करने के लिए उपयोग कर रही है, इस टिप्पणी पर बीजेपी प्रवक्ता नूपुर शर्मा कहती हैं कि “राम नाम जपना, पराया माल अपना”. इतना सुनते ही आप प्रवक्ता सैय्यद अब्बास ने कहा कि तुम आरएसएस, तुम गुंडों, तुम उपद्रवियों के साथ एक समस्या है। अब्बास ने आगे कहा कि नूपुर शर्मा जैसे लोग ‘प्राइम टाइम की राखी सावंत’ के अलावा कुछ नहीं हैं. अब्बास यहीं नहीं रूके उन्होंने नुपुर शर्मा से कहा, “आंटी जी, जाकर एकता कपूर के धारावाहिक में शामिल हो जाइए’ और फिर उन्हें ‘एकता कपूर वैम्प’ कहने लगे।

आप प्रवक्ता सैय्यद अब्बास की इस बेहूदगी की जमकर आलोचना हो रही है तो वहीँ दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल चुप्पी साधे बैठी हैं।

Sponsored Articles
loading...