चीन को कड़ा जवाब देने की तैयारी, सर्जिकल स्ट्राइक करने वाली स्पेशल फोर्स लद्दाख में तैनात

गलवान घाटी की घटना के बाद मोदी सरकार चीन के खिलाफ बेहद सख्त हो गई और चीन को कड़ा सबक सिखानें की तैयारी भी कर रही है, जी हाँ! गलवान घाटी में कमांडिंग ऑफिसर कर्नल संतोष बाबू समेत 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होनें के बाद भारत हर तरीके से चीन को चूर-चूर करनें की तैयारी कर रहा है।

इसी बीच खबर आ रही है कि चीन के साथ जारी तनातनी के बीच भारत ने लद्दाख में स्पेशल फोर्स को तैनात कर दिया है. स्पेशल फोर्सेज ने 2017 में की गई सर्जिकल स्ट्राइक में अहम भूमिका निभाई थी, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगर जरूरत पड़ी तो उनका इस्तेमाल चीन के खिलाफ भी किया जा सकता है।

स्पेशल फोर्सेज की टुकड़ियों को पूर्वी लद्दाख में तैनात किया गया है. उन्हें उनकी भूमिकाओं के बारे में पूरी तरह से अवगत कराया गया है, जिसे चीन के साथ दुश्मनी बढ़ने पर अंजाम देना पड़ सकता है. भारत में 12 से अधिक स्पेशल फोर्सेज की रेजिमेंट हैं जो अलग-अलग इलाकों में ट्रेनिंग लेती हैं।

बताआ दें कि चीन के तनातनी के बीच भारत ने लाइन ऑफ़ एक्चुअल कण्ट्रोल ( LAC ) पर एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम को तैनात कर दिया है। कुछ रक्षा विशेषज्ञों के अनुसार, हाल के दिनों में चीन के सर्विलांस एयरक्राफ्ट LAC के बेहद करीब तक उड़ते देखे गए हैं। इसी के जवाब में भारत ने यह कदम उठाया है। ताकि चीन को हर मोड़ पर कड़ी टक्कर दी जा सके. डिफेंस मिसाइल सिस्टम सबसे खतरनाक मिसाइलों में से एक मानी जाती है।

Sponsored Articles
loading...