विकास दुबे एनकाउंटर पर सवाल उठानें वाली कांग्रेस को शिवसेना ने दी नसीहत, कह दी ये बड़ी बात

कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों के हत्यारोपी और कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे को कल यानि शुक्रवार ( 10 जुलाई 2020 ) को यूपी एसटीएफ ने एनकाउंटर में ढ़ेर कर दिया। ये एनकाउंटर कानपुर के भौंती में उस वक्त हुआ जब विकास दुबे को यूपी एसटीएफ उज्जैन से कानपुर ला रही थी।

इस एनकाउंटर के बाद कई राजनैतिक पार्टियों ने सवाल उठाये, कांग्रेस प्रियंका गांधी वाड्रा ने एनकाउंटर पर सवाल उठाते हुए योगी सरकार पर निशाना साधा। इन सब के बीच शिवसेना ने एनकाउंटर पर सवाल उठानें वालों को नसीहत खासकर कांग्रेस पर निशाना साधा है। धबतातें चलें कि महाराष्ट्र में शिवसेना कांग्रेस की मदद से सरकार चल रही है।

विकास दुबे एनकाउंटर पर सवाल उठानें वालों को नसीहत देते हुए शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि एक ऐसा असामाजिक तत्व जो गुंडो की अपनी गैंग चलाता है। जब ऐसा व्यक्ति वर्दी के ऊपर हमला करता है और 8 पुलिस वालों की हत्या करता है। उसे माफी नहीं मिलनी चाहिए। अगर पुलिस ने उसका एनकाउंटर किया है तो पुलिस से सवाल पूछकर उनका मनोबल गिराना सही नहीं।

संजय राउत ने कहा कि कोई निरपराध व्यक्ति अगर मारा जाए तो उस पर सवाल खड़ा करना सही है। अगर पुलिस ने एनकाउंटर किया है तो चाहे मीडिया हो, राजनीतिक दल हो, चाहे मानवाधिकार के अलावा कोई भी हो सवाल खड़ा नहीं करना चाहिए। इसकी जांच होनी चाहिए पर राजनीति न करें।

इसके अलावा शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखा गया है कि मुठभेड़ पर सवाल उठाने वालों को शहीद पुलिसकर्मियों के परिवारों से मिलना चाहिए। आवाज उठाने के अपने अधिकार का अभ्यास करने के लिए उन्हें पुलिस का मनोबल नहीं गिराना चाहि।

Sponsored Articles
loading...