कानपुर संजीत यादव हत्याकांड: IPS अपर्णा, तत्कालीन डिप्टी SP मनोज गुप्ता समेत 4 अधिकारी सस्पेंड

कानपुर, 24 जुलाई: कानपुर में संजीव यादव अपहरण और हत्याकांड मामलें में योगी सरकार ने बड़ी कार्यवाही करते हुए आईपीएस अफसर अपर्णा गुप्ता, तत्कालीन डिप्टी SP मनोज गुप्ता समेत 4 अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है।

आपको बता दें कि करीब एक महीनें पहले अपहृत पैथोलॉजी कर्मी संजीत यादव की दोस्तों ने ही हत्या कर दी और शव को पांडु नदी में फेंक दिया। गुरुवार रात पुलिस ने दो दोस्तों समेत चार युवकों और एक युवती को हिरासत में लिया है। पूछताछ में आरोपितों ने 26 जून को ही हत्या करके शव पांडु नदी में बहाया जाना कबूल किया है। वारदात को फिरौती की रकम के लिए अंजाम दिया गया। इस घटना के बाद एक बार फिर से कानपुर पुलिस पर सवालिया निशान खड़े होनें लगे।

बर्रा-5 एलआइजी कॉलोनी निवासी 27 वर्षीय संजीत यादव का अपहरण 26 जून की रात दोस्तों ने पैथोलॉजी जाते समय किया था। वह बर्रा की एक दूसरी पैथोलॉजी में काम करता था। साथ नौकरी करने वाले दो युवकों से उसकी दोस्ती हो गई। इनसे ही 22 जून की रात बर्रा-2 में मुलाकात हुई थी। कॉल डिटेल से इसकी पुष्टि के बाद पूछताछ में पुलिस को कई सुराग मिले।

कानपुर रेंज के आईजी मोहित अग्रवाल के मुताबिक, संजीत के दोस्तों ने ही हत्या का साजिश रची और इसमें दो महिलाएं भी शामिल थीं। हालांकि पूरे मामले में पुलिस अभी तक यह स्पष्ट नहीं कर पाई कि आरोपियों को 30 लाख रुपये की फिरौती मिली या नहीं।

loading...