शरद पवार ने राममंदिर के भूमिपूजन पर उठाया सवाल तो भड़के संजय निरुपम, कांग्रेस को दी ये सलाह

अयोध्या, 20 जुलाई: अब वो घडी दूर नहीं जब अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा, जी हाँ! शनिवार को श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक सम्पन्न हो गई। 5 अगस्त को अयोध्या में राममंदिर का भूमिपूजन होगा। एनसीपी नेता शरद पवार ने भूमिपूजन पर सवाल उठाया है। अब कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने पवार पर निशाना साधा है।

कांग्रेस के दिग्गज नेता संजय निरुपम ने कहा, राममंदिर के भूमिपूजन पर NCP प्रमुख शरद पवार ने बिना वजह सवाल उठाया है। ये सही नहीं है, इसके अलावा संजय निरुपम ने कांग्रेस पार्टी को इस मामलें पर दूर रहने की सलाह दी है।

संजय निरुपम ने अपनें ट्वीट में लिखा, राममंदिर के भूमिपूजन पर NCP प्रमुख शरद पवार ने बिना वजह सवाल उठाया है। उधर मुख्यमंत्री भूमिपूजन समारोह में जाने के लिए कमर कस रहे हैं। निरुपम ने ट्वीट में लिखा, कॉंग्रेस इस विवाद से दूर रहे तो बेहतर होगा। क्योंकि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मंदिर बन रहा है और कॉंग्रेस मंदिर निर्माण के खिलाफ नहीं है।

आपको बता दें कि रविवार को महाराष्ट्र के सोलापुर में पत्रकारों से बात करते हुए शरद पवार ने कहा था कि हमें तय करना होगा कि कौन सा काम कितना महत्वपूर्ण है? उन्होंने कहा कि कुछ लोग सोचते हैं कि राम मंदिर बनने से कोरोना खत्म हो जाएगा। इसके अलावा पवार ने सरकार को नसीहत देते हुए कहा कि सरकार को लॉकडाउन की वजह से हुए नुकसान पर चिंता करनी चाहिए।

शरद पवार ने कहा कि कोरोना के हालात दिन प्रतिदिन बदतर होते जा रहे हैं लेकिन इस दौरान कुछ लोग सोचते हैं कि मंदिर बन जाने से कोरोना देश के बाहर चला जाएगा। मतलब शरद पवार चाहते हैं राममंदिर का भूमिपूजन अभी न किया जाय।

बता दें कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने मंदिर निर्माण के लिए शिलान्यास और भूमिपूजन की तारीख तय कर ली है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भूमिपूजन में शामिल होनें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या जायेंगें। ट्रस्ट की शनिवार को अयोध्या में हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि श्रीरामजन्मभूमि पर प्रस्तावित मंदिर 161 फीट ऊंचा होगा और इसमें पांच गुंबद होंगे।

loading...