ड्रैगन का विनाश तय: लद्दाख में सरहद पर खड़े होकर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने चीन की तरफ तानी राइफल

लद्दाख, 17 जुलाई: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज लद्दाख दौरे पर पहुंचे, रक्षामंत्री ने लद्दाख का दौरा ऐसे वक्त में किया है जब लाइन ऑफ़ एक्चुअल कण्ट्रोल ( LAC ) पर पिछले कई हफ़्तों से चीन के साथ तनातनी चल रही है, लद्दाख दौरे पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के साथ आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवणे, चीफ ऑफ़ डिफेन्स स्टॉफ ( सीडीएस ) जनरल विपिन रावत समेत सेना के कई अधिकारी भी मौजूद हैं।

अपने दो दिवसीय दौरे पर लद्दाख पहुंचे रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने लेह के स्ताकना में भारतीय सेना के एक खास कार्यक्रम में हिस्सा लिया। स्ताकना में भारतीय सेना के खास कार्यक्रम में जवानों ने पैरा ड्रॉपिंग और अन्य करतबों से शक्ति का खास प्रदर्शन किया। इस दौरान सेना के अधिकारियों के साथ रक्षामंत्री राजनाथ सिंह खुद एक राइफल से निशाना लगाते दिखे।

सेना के अधिकारियों के साथ राजनाथ ने यहां काफी बातचीत की। इसके अलावा कार्यक्रम में शामिल हुए सैन्यकर्मी भी रक्षामंत्री से बातचीत करते दिखे। इसी बीच रक्षामंत्री ने सेना की पीका मशीन गन की जांच की और अधिकारियों से इसके बारे में जानकारी भी ली।

मालूम हो कि इससे पहले हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लद्दाख के दौरे पर गए थे और शरहद पर खड़े होकर चीन को सीधी चेतावनी दिए थे, पीएम मोदी की दहाड़ से चीन बिलबिला उठा था, तत्काल चीनी विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर अपनी पीड़ा व्यक्त की थी, इसबार रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बयान नहीं बल्कि सरहद पर खड़े होकर सीधा चीन की तरफ राइफल तान दी, तस्वीरें देखकर चीन को मिर्ची जरूर लगी होगी।

वैसे ड्रैगन के विनाश की कहानी अब शुरू हो गई हैं, भारत ही नहीं अमेरिका, ब्रिटेन और जापान के निशाने पर भी चीन हैं, कभी भी चीन पर हमलें की खबर आ सकती है। दूसरी तरफ ताइवान और हांगकांग भी चीन के लिए बड़ी मुसीबत बनकर उभरनें वाले हैं, कुल मिलाकर ड्रैगन चारों तरफ से घिर चुका है।

loading...